Status
Not open for further replies.

adsatinder

explorer
Can anybody confirm this ?

Big Relief For Residents Of Lahaul, HRTC Bus Will Go Daily From Rohtang Tunnel
Only One Bus is allowed.
On 16 November 2019 Saturday this Bus started.

Not applicable to Private Vehicles.

रोहतांग टनल से अब रोजाना जाएगी एचआरटीसी की एक बस, बीआरओ ने दी मंजूरी
न्यूज डेस्क, अमर उजाला, केलांग(लाहौल-स्पीति) Updated Sat, 16 Nov 2019 03:11 PM IST

Big relief for residents of Lahaul, HRTC bus will go daily from Rohtang tunnel

- फोटो : अमर उजाला


लाहौल-स्पीति प्रशासन की कोशिश आखिर रंग लाई है। रोहतांग टनल प्रबंधन ने निर्माणाधीन टनल होकर रोजाना एचआरटीसी की एक बस की आवाजाही को मंजूरी दे दी है।

अब 27 सीटर बस रोजाना सुबह 11 बजे मनाली बस अड्डे से सोलंगनाला की तरफ चलेगी, जहां से यह बस यात्रियों को लेकर करीब एक बजे टनल के साउथ पोर्टल से नॉर्थ पोर्टल के लिए रवाना होगी। यही बस लाहौल से यात्रियों को लेकर दो बजे के बाद साउथ पोर्टल लौटेगी।

शनिवार को एसडीएम मनाली रमन घरसंगी खुद करीब 45 यात्रियों को लेकर मनाली से रोहतांग टनल होकर नार्थ पोर्टल पहुंचे। लाहौल की तरफ से बीआरओ के ट्रकों में लगभग 95 लोगों को नॉर्थ पोर्टल से साउथ पोर्टल पहुंचाया गया।

नॉर्थ पोर्टल से लाहौल पहुंची एचआरटीसी बस शाम छह बजे लाहौल से दर्जनों यात्रियों को लेकर साउथ पोर्टल पहुंची। शनिवार को रोहतांग टनल होकर 200 से अधिक लोग आरपार हुए।

निजी वाहनों को नहीं मिलेगी अनुमति : सरोच
नॉर्थ पोर्टल में हालात का जायजा लेने पहुंचे तहसीलदार केलांग अनिल कुमार ने बताया कि एक एंबुलेंस को भी मनाली भेजा गया। उल्लेखनीय है कि बर्फबारी के कारण 15 नवंबर से रोहतांग दर्रा ट्रैफिक के लिए आधिकारिक तौर पर बंद हो गया है। ऐसे में जनजातीय लोगों की मुश्किलें बढ़ गई हैं।

इसी बीच लाहौल-स्पीति प्रशासन के प्रयासों से टनल प्रबंधन ने सुरंग होकर बस की आवाजाही की मंजूरी देकर बड़ी राहत दी है। उपायुक्त लाहौल स्पीति केके सरोच ने बताया कि टनल होकर निजी वाहनों को अनुमति नहीं दी जाएगी। रोहतांग टनल के दोनों छोर पर निजी वाहनों का जमावड़ा लगने से कानून व्यवस्था बिगड़ रही है। लिहाजा, अब रोहतांग टनल होकर निजी वाहनों की आवाजाही पर प्रतिबंध लगा दिया है।


 

adsatinder

explorer
Rohtang pass to be officially closed if snowfall continues after November 15
ANI | General News Last Updated at November 15, 2019 19:40 IST


The Himachal Pradesh administration on Friday said that the Rohtang Pass will be closed officially if snowfall continues after November 15 and tourists will not be allowed to go to the Rohtang Valley.
Akshay Sood, Additional District Magistrate Kullu said: "For the last four to five 5 days it has been snowing in Kullu. We received an advisory day before yesterday regarding the weather situation. Rohtang Pass will be closed officially if there is snowfall after November 15. Tourists will not be allowed to go to Rohtang valley now. I appeal to people to not venture into higher terrains for their safety."

Himachal Pradesh, Jammu and Kashmir and parts of Uttarakhand witnessed heavy snowfall over the past few days.
According to IMD, scattered to fairly widespread rain and snow along with isolated heavy precipitation is likely over Himachal Pradesh during the next 48 hours.


Rohtang pass to be officially closed if snowfall continues after November 15
 

adsatinder

explorer
Fresh Snowfall In Rohtang Darcha Jispa Sissu Lahaul Spiti Himachal Pradesh
भारी बर्फबारी से मनाली-रोहतांग-लेह हाईवे बंद, हाड़ कंपाने वाली सर्दी से घरों में कैद हुए लोग
न्यूज डेस्क, अमर उजाला, शिमला/कुल्लू/केलांग/कोकसर, Updated Sat, 16 Nov 2019 05:11 PM IST
बर्फबारी

1 of 7
बर्फबारी - फोटो : अमर उजाला

हिमाचल के जिला कुल्लू के मनाली और लाहौल की ऊंची चोटियों पर शनिवार को भी बर्फबारी का दौर जारी रहा। मनाली-लेह मार्ग में 13050 फीट ऊंचे रोहतांग दर्रा में 20 सेंटीमीटर, कोकसर में 10 सेंटीमीटर और लाहौल के रिहायशी क्षेत्र सिस्सू, दारचा, जिस्पा और गोंधला में ताजा बर्फबारी हुई।


https://www.amarujala.com/photo-gallery/shimla/fresh-snowfall-in-rohtang-darcha-jispa-sissu-lahaul-spiti-himachal-pradesh?



 

adsatinder

explorer
Snowfall In Rohtang And Koksar Tourist In Solang Valley
सोलंगनाला में बर्फ के बीच सैलानियों ने की मस्ती, शीत लहर की चपेट में घाटी
न्यूज डेस्क, अमर उजाला, कुल्लू, Updated Sat, 23 Nov 2019 02:59 PM IST
Snowfall in Rohtang and Koksar tourist in solang valley

1 of 7
- फोटो : अमर उजाला
हिमाचल के उच्च पर्वतीय क्षेत्रों में शनिवार को भी बर्फबारी का दौर जारी रहा। राजधानी शिमला में सुबह हल्की बूंदाबांदी हुई, दोपहर बाद शहर में मौसम साफ हो गया। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने रविवार और सोमवार को प्रदेश के सभी क्षेत्रों में मौसम साफ रहने का पूर्वानुमान जताया है।

26 और 27 नवंबर को दोबारा बारिश-बर्फबारी के आसार हैं। मनाली और लाहौल की ऊंची चोटियों पर शुक्रवार से जारी बर्फबारी शनिवार सुबह तक जारी रही। 13050 फीट ऊंचे रोहतांग दर्रे में 20 और कोकसर में 10 सेंटीमीटर ताजा बर्फबारी रिकॉर्ड हुई। प्रदेश में शीतलहर का प्रकोप बढ़ गया है।

रोहतांग में बर्फबारी का क्रम शुरू होने से अब दर्रे के बहाल होने की उम्मीदें खत्म होती जा रही हैं। दो दिनों के भीतर रोहतांग में कुल 40 सेंटीमीटर बर्फ की मोटी परत जम गई है। ऐसे में जनजातीय क्षेत्र के लोगों को लाहौल जाने के लिए एकमात्र हेलीकॉप्टर सेवा का सहारा लेना पड़ेगा। 25 नवंबर के बाद रोहतांग टनल में कंक्रीट डाला जाना है। रोहतांग टनल और दर्रा बंद होने से सर्दियों के दिनों में जनजातीय जिला लाहौल-स्पीति के लोगों की मुश्किलें बढ़ेंगी।

जनजातीय जिला किन्नौर में शुक्रवार रात से मौसम में हुई तबदील के चलते जिले की चोटियों और अधिकांश ऊंचाई वाले इलाकों में हल्के हिमपात का दौर शुरू हो गया है। काजा के स्थानीय रूटों पर वाहनों की आवाजाही ठप पड़ी है। काजा में 16 सेंटीमीटर ताजा हिमपात दर्ज किया गया है। काजा से मूद, किब्बर, लालूंग, डेमूल, कौमिक, लोसर, समदू के लिए वाहनों की आवाजाही ठप हो गई है।

चांशल में ताजा हिमपात से डोडरा क्वार सड़क भी बंद हो गई है। चंबा जिला की ऊपरी चोटियों में भी शनिवार को हल्की बर्फबारी हुई। जिला के आधा दर्जन मार्गों पर जगह-जगह भूस्खलन होने से कुछ समय तक वाहनों की आवाजाही भी प्रभावित रही।

शनिवार को बिलासपुर में अधिकतम तापमान 27.5, हमीरपुर में 27.3, सुंदरनगर में 26.0, ऊना में 25.8, सोलन में 23.0, कांगड़ा-नाहन में 22.3, भुंतर में 20.1, चंबा में 19.5, शिमला में 17.4, धर्मशाला में 13.6, डलहौजी में 8.3, कल्पा में 6.2 और केलांग में 5.0 डिग्री सेल्सियस रहा।

केलांग का न्यूनतम तापमान माइनस 0.2
शुक्रवार रात केलांग में न्यूनतम तापमान माइनस 0.2, कल्पा में 3.3, मनाली में 3.6, डलहौजी में 4.6, कुफरी में 5.8, धर्मशाला में 8.0 और शिमला में 10.4 डिग्री सेल्सियस रहा।


सोलंगनाला में बर्फ के बीच सैलानियों ने की मस्ती, शीत लहर की चपेट में घाटी
 

adsatinder

explorer
Governor Demands For More Budget For Development Of Kinnaur And Lahaul-Spiti Adjacent To China
राज्यपाल ने चीन से सटे किन्नौर और लाहौल-स्पीति के विकास को मांगा और बजट
न्यूज डेस्क, अमर उजाला, शिमला Updated Sat, 23 Nov 2019 08:13 PM IST

हिमाचल के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय

हिमाचल के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय - फोटो : अमर उजाला


हिमाचल के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने कहा कि युवाओं और स्वयंसेवी संस्थाओं को नशाखोरी व स्वच्छता आदि के खिलाफ सक्रिय जन जागरूकता अभियान में भाग लेना चाहिए ताकि इसको और सशक्त बनाया जा सके। राज्यपाल ने यह बात नई दिल्ली के राष्ट्रपति भवन में आयोजित राज्यपालों के सम्मेलन में भाग लेते हुए कही।

उन्होंने कहा कि संवेदनशील जम्मू-कश्मीर व चीन के साथ सीमा, पर्यटकों की भारी संख्या में आवाजाही, निर्वासित तिब्बत सरकार की उपस्थिति, कठिन भौगोलिक क्षेत्र और विपरीत जलवायु परिस्थितियां होने के बावजूद हिमाचल एक शांत प्रदेश है। उन्होंने चीन से सटे राज्य किन्नौर और लाहौल-स्पीति क्षेत्र में बेहतर आधारभूत ढांचे, संचार व्यवस्था और तकनीक की उपलब्धता पर बल देते हुए आवश्यकतानुसार बजट बढ़ाने का आग्रह किया।

उन्होंने सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण लेह क्षेत्र को हिमाचल से जोड़ने के लिए ब्रॉडगेज रेललाइन और अंतरराष्ट्रीय स्तर की हवाई पट्टी के निर्माण की आवश्यकता पर भी बल दिया। दत्तात्रेय ने कहा कि नवीन शिक्षा नीति-2019 का प्रारूप सही दिशा में लिया गया कदम है। हिमाचल में प्राकृतिक खेती को बढ़ावा देने के लिए बड़े स्तर पर अभियान चलाया गया जिसके तहत लगभग 50 हजार किसानों को जोड़ा गया है। उन्होंने प्रदेश सरकार के महत्वाकांक्षी कार्यक्रम जनमंच के सफल कार्यन्वयन और हाल ही में संपन्न ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट की भी जानकारी दी।


राज्यपाल ने चीन से सटे किन्नौर और लाहौल-स्पीति के विकास को मांगा और बजट
 

adsatinder

explorer
Himachal Pradesh › Himachal Weather Report Cold Wave In Keylong Kalpa
केलांग-कल्पा में हाड़ कंपाने लगी ठंड, माइनस में पहुंचा न्यूनतम पारा
न्यूज डेस्क, अमर उजाला, शिमला, Updated Sun, 24 Nov 2019 06:10 PM IST
himachal weather report cold wave in keylong kalpa

1 of 5
- फोटो : अमर उजाला

हिमाचल के उच्च पर्वतीय क्षेत्रों में जारी बर्फबारी के बीच केलांग और कल्पा में हाड़ कंपा देने वाली ठंड पड़ रही है। शनिवार रात को केलांग में न्यूनतम माइनस 5.0, कल्पा में माइनस 0.2 और मनाली में 1.8 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड हुआ। राजधानी शिमला सहित अन्य मध्य पर्वतीय क्षेत्रों में भी ठंड का प्रकोप बढ़ना शुरू हो गया है।





2 of 5
- फोटो : अमर उजाला

उधर, मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने सोमवार को प्रदेश भर में मौसम साफ रहने के आसार जताए हैं। मंगलवार और बुधवार को दोबारा बारिश-बर्फबारी का पूर्वानुमान है। पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता से मौसम में यह बदलाव आ रहा है।




3 of 5
- फोटो : अमर उजाला

रविवार को राजधानी शिमला सहित प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में मौसम साफ रहा। धूप खिलने से मैदानी क्षेत्रों के तापमान में तीन से चार डिग्री की बढ़ोतरी दर्ज हुई।




4 of 5
- फोटो : अमर उजाला

रविवार को ऊना में अधिकतम तापमान 28.3, सोलन में 24.3, कांगड़ा में 23.9, नाहन में 23.2, सुंदरनगर में 22.9, भुंतर में 22.3, चंबा में 19.8, धर्मशाला में 18.8, शिमला में 16.4, कल्पा मे 9.6, डलहौजी में 8.3 और केलांग में 2.6 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड हुआ।



5 of 5
- फोटो : अमर उजाला

मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने 26 से 28 नवंबर तक मौसम खराब रहने की संभावना जताई है। 29 और 30 नवंबर को मौसम साफ रहने का पूर्वानुमान है।



केलांग-कल्पा में हाड़ कंपाने लगी ठंड, माइनस में पहुंचा न्यूनतम पारा
 

adsatinder

explorer
Three Days Of Bad Weather And Rain And Snowfall In Himachal
हिमाचल में तीन दिन खराब रहेगा मौसम, बारिश और बर्फबारी के आसार
न्यूज डेस्क, अमर उजाला, शिमला Updated Mon, 25 Nov 2019 06:04 PM IST

काेकसर

काेकसर - फोटो : अमर उजाला


हिमाचल के सभी क्षेत्रों में तीन दिन मौसम खराब रहेगा। मैदानी और मध्य पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश और उच्च पर्वतीय क्षेत्रों में बर्फबारी होने के आसार हैं। पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता से मौसम में यह बदलाव आ रहा है। 29 नवंबर से धूप खिलने का पूर्वानुमान है। सोमवार को राजधानी शिमला सहित प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में मौसम साफ रहा। बर्फबारी के चलते प्रदेश के ऊंचाई वाले क्षेत्र शीत लहर की चपेट में आ गए हैं।

केलांग-कल्पा का न्यूनतम तापमान माइनस में चल रहा है। इन क्षेत्रों में सुबह और शाम के समय जबरदस्त ठंड पड़ रही है। रविवार रात को केलांग मे न्यूनतम तापमान माइनस 5.9, कल्पा में माइनस 0.6, मनाली में 3.4, भुंतर में 4.4 और शिमला में 5.9 डिग्री दर्ज हुआ। सोमवार को राजधानी शिमला में धूप खिलने के साथ हल्के बादल भी छाए रहे।

सोमवार को अधिकतम तापमान में सामान्य से दो डिग्री की कमी दर्ज हुई। सोमवार को ऊना में अधिकतम तापमान 26.7, कांगड़ा में 23.8, बिलासपुर में 22.5, हमीरपुर में 22.1, सुंदरनगर में 21.7, नाहन में 21.3, सोलन में 21.0, चंबा में 20.7, भुंतर में 18.9, शिमला में 15.7, धर्मशाला में 14.8, कल्पा में 8.7, डलहौजी में 7.1 और केलांग में 2.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ।


हिमाचल में तीन दिन खराब रहेगा मौसम, बारिश और बर्फबारी के आसार
 

adsatinder

explorer
Rohtang Tunnel Closed And Telecommunication Services Stalled In Lahaul Valley After Heavy Snowfall
तस्वीरें: लाहौल घाटी में बिछी बर्फ की सफेद चादर, रोहतांग टनल से आवाजाही बंद, दूरसंचार सेवाएं ठप
न्यूज डेस्क, अमर उजाला, केलांग(लाहौल-स्पीति)/शिमला, Updated Mon, 25 Nov 2019 05:07 PM IST

लाहौल की चंद्रा घाटी

1 of 6
लाहौल की चंद्रा घाटी - फोटो : अमर उजाला

भारी बर्फबारी की वजह से रोहतांग दर्रे के बाद अब रोहतांग सुरंग से होकर वाहनों की आवाजाही पर ब्रेक लगने से घाटी से रेफर होने वाले मरीजों के अलावा सरकारी कर्मचारियों की मुश्किलें बढ़ गई हैं। अब घाटी से बाहर आने-जाने के लिए हेलीकॉप्टर ही एकमात्र विकल्प रहा है। 25 नवंबर से रोहतांग टनल होकर बस की आवाजाही अचानक बंद होने से कई लोग कुल्लू-मनाली और लाहौल में फंस गए हैं।



लाहौल की चंद्रा घाटी

2 of 6
लाहौल की चंद्रा घाटी- फोटो : अमर उजाला

हालांकि, 24 नवंबर को बस के अलावा कई निजी वाहन टनल के जरिये आर-पार हुए। अवकाश पर गए कई कर्मचारी अभी भी घाटी से बाहर हैं। कई कर्मचारियों ने अवकाश पर घर जाना है। रोहतांग टनल से आवाजाही बंद होने से रेफर मरीजों को लाहौल से बाहर निकालना चुनौती बन गया है। कांग्रेस ने ऐसे हालात में सरकार से तत्काल हेलीकॉप्टर उड़ानें शुरू करने की मांग की है।


कोकसर

3 of 6
कोकसर- फोटो : अमर उजाला

जिला कांग्रेस प्रवक्ता अनिल सहगल ने कहा कि बर्फबारी के कारण रोहतांग दर्रा पहले ही बंद है। निर्माण कार्य के चलते रोहतांग टनल होकर 25 नवंबर से वाहनों की आवाजाही रोक दी गई है। हेलीकॉप्टर सेवा ही एकमात्र विकल्प बचा है। कहा कि सरकार जनजातीय क्षेत्रों के लिए जल्द हेलीकॉप्टर उड़ानों की व्यवस्था करे। सीमा सड़क संगठन ने कहा कि मौसम पूरी तरह साफ होने के बाद ही रोहतांग दर्रा से बर्फ हटाने का काम शुरू किया जाएगा।


काेकसर

4 of 6
काेकसर- फोटो : अमर उजाला

बताया जा रहा है कि लाहौल घाटी के अधिकतर दुकानदारों ने अभी तक राशन और अन्य सामान का भंडारण नहीं किया है। सर्दी के मौसम में पिछले साल की तरह घाटी में खाद्यान्नों का संकट पैदा हो सकता है। वहीं, जिला प्रशासन का दावा है कि सरकार की तरफ से सभी तरह के खाद्यान्नों का भंडारण कर दिया है। उपायुक्त केके सरोच ने बताया कि हेलीकॉप्टर सेवा शुरू करने के लिए सोमवार को उड़ान समिति की टीम को रोहतांग टनल होकर कुल्लू भेज दिया गया है। इसके लिए रोहतांग टनल प्रबंधन से विशेष अनुमति मांगी गई। कुल्लू में उड़ान समिति कार्यालय खोलने के बाद कुछ दिन में हेलीकॉप्टर सीट के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू की जाएगी।



5 of 6
- फोटो : अमर उजाला

वहीं, सर्दी शुरू होते ही बीएसएनएल की दूरसंचार सेवा चरमरानी शुरू हो गई हैं। लाहौल के दारचा क्षेत्र में 11 नवंबर से बीएसएनएल की दूरसंचार सेवा और उदयपुर में पिछले करीब एक सप्ताह से मोबाइल फोन सेवा बंद है। जिला मुख्यालय केलांग में भी शनिवार शाम से बीएसएनएल की इंटरनेट सेवाएं जवाब दे रही हैं। इससे ऑनलाइन कामकाज ठप हो गया है। इंटरनेट सेवा बंद होने से ड्राइविंग लाइसेंस, वाहन पंजीकरण, आधार कार्ड और प्रमाणपत्र बनाने की प्रक्रिया रुक गई है। हालांकि चंद्रा और तोद वैली के कुछ हिस्सों में एक निजी कंपनी की दूरसंचार सेवा शुरू हो गई है।




6 of 6
- फोटो : अमर उजाला

हिमाचल में तीन दिन बारिश-बर्फबारी
मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने हिमाचल में तीन दिन बारिश-बर्फबारी की संभावना जताई है। विभाग के अनुसार 26, 27, 28 नवंबर को मैदानी, मध्यम ऊंचाई और उच्च पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश-बर्फबारी के आसार हैं। 29 नवंबर से एक दिसंबर तक मौसम साफ रहने का पूर्वानुमान है।




 

adsatinder

explorer
Season First Snowfall In Shimla Jubbal Khara Pathar Himachal Pradesh

शिमला में सीजन का पहला हिमपात, प्रदेश के मैदानी क्षेत्रों तक दिखने लगा ठंड का असर
न्यूज डेस्क, अमर उजाला, शिमला Updated Wed, 27 Nov 2019 02:00 PM IST


खड़ा पत्थर जुब्बल क्षेत्र में सीजन की पहली बर्फबारी

खड़ा पत्थर जुब्बल क्षेत्र में सीजन की पहली बर्फबारी - फोटो : अमर उजाला


हिमाचल प्रदेश के शिमला जिले में सीजन का पहला हिमपात हुआ है। शिमला में सीजन का पहला हिमपात होने प्रदेश के मैदानी क्षेत्रों तक ठंड का असर दिखने लगा है। शिमला जिले के खड़ा पत्थर जुब्बल क्षेत्र में सीजन की पहली बर्फबारी हुई है। रोहड़ू के ऊपरी क्षेत्र और खड़ा पत्थर के नजदीक बराल में ताजा बर्फबारी के बाद नजारा बेहद आकर्षक है। बर्फबारी से शिमला शीत लहर की चपेट में आ गया है।

जिला शिमला में बर्फबारी व निचले क्षेत्रों में बारिश आगामी सेब और रबी फसल के लिए बेहतर मानी जा रही है। मौसम विभाग ने आज भी प्रदेश भर में बारिश, ओलावृष्टि और ऊंची चोटियों पर बर्फबारी की चेतावनी जारी की है। गुरुवार को भी मौसम खराब बना रहेगा।

न्यूनतम तापमान (डिग्री सेल्सियस में)
केलांग -3.4
मनाली 3.2
शिमला 6.1
धर्मशाला 8.4
ऊना 9.6
सोलन 7.4
कांगड़ा 9.2
मंडी 10.6
बिलासपुर 9.5
हमीरपुर 9.8
चंबा 8.2


शिमला में सीजन का पहला हिमपात, प्रदेश के मैदानी क्षेत्रों तक दिखने लगा ठंड का असर
 
Status
Not open for further replies.
Top