Kedarnath, Uttarakhand, India

Nitish Kumar

Well-Known Member
Anyone went towards Rudraprayag side from Kotdwar? New Tehri side looks longer and Rishikesh side looks blocked.

Kotdwar should be scenic and shorter, no?

Nitish Kumar
 

adsatinder

explorer
Anyone went towards Rudraprayag side from Kotdwar? New Tehri side looks longer and Rishikesh side looks blocked.

Kotdwar should be scenic and shorter, no?

Nitish Kumar
Yes :

@Gaurav Tomar

Check here:
Day 1
Delhi - Bijnore - Kotdwar - Satpuli - Devprayag - Rudraprayag - Kund - Phata - Sitapur/Sonprayag.
Link:
Trip to Kedarnath Ji - Sep'2020



Route via Devprayag may open today.
Keep eye on news.
 
Last edited:

adsatinder

explorer
आज से तोताघाटी में खुल जाएगा बदरीनाथ हाईवे


Publish Date:Thu, 15 Oct 2020 11:25 PM (IST)Author: Jagran

तोता घाटी में ऋषिकेश-बदरीनाथ राजमार्ग शुक्रवार से खुलने की उम्मीद है।

जागरण संवाददाता, नई टिहरी: तोता घाटी में ऋषिकेश-बदरीनाथ राजमार्ग शुक्रवार से खुलने की उम्मीद है। बीती मार्च माह में तोता घाटी में ऑलवेदर रोड के काम के कारण यातायात बंद किया गया था। लेकिन, अब शुक्रवार से तोता घाटी से वाहनों का संचालन शुरू किया जाएगा।
तोता घाटी में गुरुवार को ब्लास्टिग का काम किया गया। गुरुवार देर रात यहां पर सड़क खोलने का काम किया जाएगा। निर्माण में लगी कंपनियों के मुताबिक शुक्रवार शाम चार बजे से वाहनों का संचालन शुरू हो जाएगा।
ऑलवेदर प्रोजेक्ट के टीम लीडर एके तिवारी ने बताया कि तोता घाटी में करीब छह मीटर हिस्सा साफ करने के बाद शुक्रवार शाम चार बजे तक मलबा हटाने का काम पूरा कर लिया जाएगा। इसके बाद शुक्रवार को ऋषिकेश-श्रीनगर के बीच वाहनों का संचालन शुरू होने की उम्मीद है। उन्होंने बताया कि तोताघाटी को पहले 10 अक्टूबर को खोलना था। लेकिन, मलबा आने के कारण मार्ग नहीं खोला जा सका। तोताघाटी मे सड़क कटिग के लिए एनएच ने पहला क्लोजर 22 मार्च को लिया था। इसके बाद से वहां सड़क बंद थी।

आवागमन में हो रही थी दिक्कत
ऑलवेदर रोड का काम चलने के कारण मार्च माह में तोताघाटी में ऋषिकेश-बदरीनाथ राजमार्ग बंद होने के कारण स्थानीय निवासियों सहित पर्यटकों को आवाजाही में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। इतने लंबे समय से राजमार्ग पर आवाजाही बंद रही। राजमार्ग बंद होने के चलते अधिकांश वाहन टिहरी से श्रीनगर होते हुए जोशीमठ और फिर बदरीनाथ पहुंच रहे थे। हालांकि इस बार कोरोना के चलते यात्री वाहनों की आवाजाही कम रही। मार्ग बाधित रहने के चलते क्षेत्रवासियों को भी खाड़ी-गजा होते हुए देवप्रयाग सफर करना पड़ा। तोताघाटी में हाईवे खुलने से क्षेत्रवासियों के अलावा यात्रियों को राहत मिलेगी।


आज से तोताघाटी में खुल जाएगा बदरीनाथ हाईवे
 

adsatinder

explorer
केदारनाथ में अब तीर्थयात्री सभा मंडप से करने लगे दर्शन
हिन्दुस्तान टीम,रुद्रप्रयाग | Published By: Newswrap
  • Last updated: Wed, 07 Oct 2020 04:21 PM



देवस्थानम बोर्ड से अनुमति के बाद प्रशासन ने शुरू की व्यवस्था डीएम ने तीर्थपुरोहितों से भी की वार्तारुद्रप्रयाग। हमारे संवाददाताकेदारनाथ धाम में अब मंदिर के सभामंडप से तीर्थयात्रियों को दर्शन की सुविधा दे दी गई है। देवस्थानम बोर्ड से अनुमति लेने के बाद प्रशासन ने बुधवार से यह व्यवस्था शुरू कर दी है। श्रद्धालुओं को मंदिर के उत्तर द्वार से प्रवेश कराते हुए दक्षिण द्वार से बाहर भेजा जा रहा है। यात्रियों से मंदिर परिसर में सामाजिक दूरी का पालन करने व मास्क पहनने की अपील की जा रही है, जिससे कोरोना संक्रमण से पूरी तरह बचा जा सके।केदारनाथ धाम पहुंची जिलाधिकारी वंदना सिंह ने बुधवार सुबह देवस्थान बोर्ड को धाम में यात्रा की वर्तमान स्थिति से अवगत कराया। इसके बाद उन्होंने केदारनाथ में तीर्थपुरोहितों से भी बैठक में व्यापक चर्चा की। पूर्वान्ह 11 बजे बोर्ड द्वारा केदारनाथ में तीर्थयात्रियों के लिए मंदिर के सभामंडप से दर्शन करने की अनुमति दी गई। जिसके बाद जिलाधिकारी की मौजूदगी में पुलिस द्वारा उचित व्यवस्था के साथ सभामंडप से दर्शन की व्यवस्था शुरू कर दी गई। मंदिर से सभामंडप तक एक निश्चित दूरी के लिए गोले बनाए गए हैं। चौकी प्रभारी मृदुल रावत के नेतृत्व में पुलिस द्वारा मंदिर परिसर से एक-एक श्रद्धालु को मंदिर परिसर स्थित नंदी भगवान की मूर्ति के समीप उत्तर द्वार से सभामंडप में भेजा जा रहा है। जहां पर श्रद्धालु बाबा के स्यंभूलिंग के दर्शन कर दक्षिण द्वार से बाहर आ रहे हैं। जिलाधिकारी ने बताया कि बोर्ड से अनुमति मिलने के बाद केदारधाम आने वाले तीर्थयात्रियों के लिए सभामंडप से दर्शन की सुविधा शुरु कर दी गई है। कहा कि यात्रा व्यवस्था के सफल संचालन के लिए सभी जरूरी व्यवस्थाएं पूरी कर ली गई है।

केदारनाथ में अब तीर्थयात्री सभा मंडप से करने लगे दर्शन
 

Nitish Kumar

Well-Known Member
आज से तोताघाटी में खुल जाएगा बदरीनाथ हाईवे


Publish Date:Thu, 15 Oct 2020 11:25 PM (IST)Author: Jagran

तोता घाटी में ऋषिकेश-बदरीनाथ राजमार्ग शुक्रवार से खुलने की उम्मीद है।

जागरण संवाददाता, नई टिहरी: तोता घाटी में ऋषिकेश-बदरीनाथ राजमार्ग शुक्रवार से खुलने की उम्मीद है। बीती मार्च माह में तोता घाटी में ऑलवेदर रोड के काम के कारण यातायात बंद किया गया था। लेकिन, अब शुक्रवार से तोता घाटी से वाहनों का संचालन शुरू किया जाएगा।
तोता घाटी में गुरुवार को ब्लास्टिग का काम किया गया। गुरुवार देर रात यहां पर सड़क खोलने का काम किया जाएगा। निर्माण में लगी कंपनियों के मुताबिक शुक्रवार शाम चार बजे से वाहनों का संचालन शुरू हो जाएगा।
ऑलवेदर प्रोजेक्ट के टीम लीडर एके तिवारी ने बताया कि तोता घाटी में करीब छह मीटर हिस्सा साफ करने के बाद शुक्रवार शाम चार बजे तक मलबा हटाने का काम पूरा कर लिया जाएगा। इसके बाद शुक्रवार को ऋषिकेश-श्रीनगर के बीच वाहनों का संचालन शुरू होने की उम्मीद है। उन्होंने बताया कि तोताघाटी को पहले 10 अक्टूबर को खोलना था। लेकिन, मलबा आने के कारण मार्ग नहीं खोला जा सका। तोताघाटी मे सड़क कटिग के लिए एनएच ने पहला क्लोजर 22 मार्च को लिया था। इसके बाद से वहां सड़क बंद थी।

आवागमन में हो रही थी दिक्कत
ऑलवेदर रोड का काम चलने के कारण मार्च माह में तोताघाटी में ऋषिकेश-बदरीनाथ राजमार्ग बंद होने के कारण स्थानीय निवासियों सहित पर्यटकों को आवाजाही में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। इतने लंबे समय से राजमार्ग पर आवाजाही बंद रही। राजमार्ग बंद होने के चलते अधिकांश वाहन टिहरी से श्रीनगर होते हुए जोशीमठ और फिर बदरीनाथ पहुंच रहे थे। हालांकि इस बार कोरोना के चलते यात्री वाहनों की आवाजाही कम रही। मार्ग बाधित रहने के चलते क्षेत्रवासियों को भी खाड़ी-गजा होते हुए देवप्रयाग सफर करना पड़ा। तोताघाटी में हाईवे खुलने से क्षेत्रवासियों के अलावा यात्रियों को राहत मिलेगी।


आज से तोताघाटी में खुल जाएगा बदरीनाथ हाईवे
Thanks for the update. Would keep an eye

Tried to register on Smart City site but it seems that Hotel booking mandatory. Not letting me to register without that.

Plan currently is in floating mode and nothing confirmed except Rudraprayag and Tungnath in that. Online prices don't look favorable

Nitish Kumar
 

adsatinder

explorer
A BCMTIAN reached back to home.
His report.

Returned from 5 days trip to Shri Kedarnath Dham( 15th Oct afternoon to 20th Oct morning)

*Route* taken was - Gurgaon- Delhi- Muradnagar- Upper Ganga Canal- Khatauli- Bijnor- Najibabad- Kotdwar- Gumkhal- Satpuli- Devprayag- Srinagar- Rudraprayag- Agastyamuni-Phata- Sonprayag

*Road Conditions*-
Gurgaon to Kotdwar- Very Good
Kotdwar to Satpuli- Average to Bad
Satpuli to Devprayag- Narrow but good roads

Devprayag to Srinagar - Good roads but broken in patches

Srinagar to Agastyamuni- Good but broken in patches( widening work going on so expect delays)

Agastyamuni to Sonprayag- Worse( No roads, everything a dirt track)

While *return* journey was through New Tehri and roads are superb from Srinagar till Rishikesh.
Rest Rishikesh to Haridwar- Broken roads in patches.

*Total travel time*- Onward journey- 12.5 hrs( with adequate breaks
Return journey - 14.5 hrs with 2 major breaks.

Q:
What time did you start from both ends?

A:
For onward journey started at 3 pm from Gurgaon and took a night halt at Gumkhal and next day started from Gumkhal around 9:30 am and reached Sonprayag around 5 pm.
For return leg started at 1 pm from Sonprayag and reached Gurgaon at 4:30 in the morning today.

Q:
any Covid Report requiment ?

A:
No report required and you can now enter the Mandir to have a cleared view of the ShivLing

Entry is just for a small part like 10 feet entrance and then exit from the right side of the the temple gate.

Q:
Earlier they made a bench platform to have Darshan of inside.
What happened to it ?

A:
They removed it since before October, no one was allowed inside the temple but now, one can enter and have darshan from 10feet inside.
 
Top