New Motor Vehicle Act 2019 from 1 September in India - Pay Huge Fines

adsatinder

explorer
New Motor Vehicles Act: Gurugram में कई चालान कटे, एक शख्स का 23000 चालान काटा गया
7,298 views



101
17



News18 India

Published on Sep 4, 2019


SUBSCRIBE 5.5M
पूरे देश में Motor Vehicle Act का असर देखने को मिल रहा है। ट्रैफिक नियमों में कड़ाई के बाद Gurugram में एक शख्स से 23000 का चालान काटा गया जिसे उन्होंने भरने से इंकार कर दिया और कहा कि उसकी स्कूटी की कीमत महज़ 15 हज़ार है।

Reactions:
1.
जुर्माना होना चाहिए ताकि लोग गलत नहीं करे लेकिन जुर्माना बहुत ही अधिक है।

2.
भारत,मां, कि, जनता, भी दयालु,है।
चुप,चाप, सब सह,लेती, है।
लगता,है सरकार, कुछ, जिय्यादा मंदी,मै, है.

3.
छेड़छाडी पर 1000 रु दंड है तीन महिने कि सजा
लायसन नही तो 5000 रु दंड और 6 महिने सजा
वा क्या देश है क्या अजब कानून
नि........ ग..... मूर्ख मंत्री है
घुस खाने वाली लाच खोर पोलिस पर भी कुछ कानून बना दो
जनता को हर वक्त कैची पर पकडते हो सा......

4.
नौकरियां मत लाओं yeah drama lekey aao great
25000 hazaaar ka chalaan Jo Police thoda bhut सुधर रही थी
उसके भी मज़े कर दिए,
नौकरियां लाओ तब लो चालान और रोड ठीक करो पहले ,
कुछ मिल नहीं रा तो yeah सरकार एक नया ड्रामा लेके आजाती है..
जीडीपी की .... यूपी मै मिड डे मील मै नमक के साथ रोटी मिलरी है....
और कितने अच्छे दिन चाहिए...
घर का पता नहीं बस भारहर से अवार्ड मिलरे...
yeah woh pheley desh ki हालात तो सुधार लो.....


5.
Income hai nahi...aur challan 25000 ka
Sarkari naukari lag nahi... Rahi Par challan 25000 ka....
Aur jinone paper deye unka result Nahi aa rahi.... Par challan 25000 ka
Gdp decrease ho gayi... Par challan 25000
 
Last edited:

adsatinder

explorer
1.
आर्थिक मंदी दूर करने का सरकारी जुगाड़

गुड़गांव में स्कूटी का चालान
₹23000

1567628321751.png

2.
Pulsar Challan 22K

1567628887707.png



3.
Challan for 59000 today done in gurgaon

1567628262342.png




4.
E-Rickshaw - 27K

1567628744695.png



1567628788524.png
 
Last edited:

adsatinder

explorer
Odisha: Auto driver fined Rs 47,500 for traffic violations in Bhubaneswar

Driver Haribandhu Kanhar claimed he had not violated any rule except driving after having alcohol.


Odisha: Auto driver fined Rs 47,500 for traffic violations in Bhubaneswar


Representative image. | PAL PILLAI/AFP

A drunk auto-rickshaw driver in Odisha’s Bhubaneswar was on Wednesday fined Rs 47,500 by the transport department under the new increased penalty amounts for traffic violations, PTI reported. The officials fined the driver identified as Haribandhu Kanhar under the Motor Vehicles (Amendment) Act, 2019, which came into effect on September 1.
The traffic police and Regional Transport Office Bhubaneswar personnel intercepted the auto-rickshaw at Acharya Vihar Chhak in the city. Kanhar admitted that he was driving under the influence of alcohol at the time of the interception. “I cannot pay such huge amount of penalty,” he said. “Let them seize my vehicle or send to jail, I cannot pay the amount.”
He said he bought the auto for Rs 25,000 a week ago, according to News18. “I graduated a long ago, but couldn’t find any sort of employment,” Kanhar said. “I bought the auto to earn a living by plying it.”
Kanhar was fined Rs 500 for general offence, Rs 5,000 for allowing an unauthorised person to drive the vehicle, Rs 5,000 for driving without a valid licence, Rs 10,000 for drunk driving, Rs 10,000 for violating air and noise pollution norms, Rs 5,000 for using vehicle without registration and fitness certificate, Rs 10,000 for using vehicle without permit or violating permit conditions and Rs 2,000 for plying without insurance.
The driver said: “I do not understand why I was asked to pay such a huge amount as fine. I have not violated any rule except driving after having alcohol. I have all necessary documents and they are all updated, but I have them at home. I do not keep them in my auto as they often get stolen.”
However, Additional Deputy Commissioner of Police (Traffic), Amaresh Panda, said he committed other offences too. “The auto-driver was found to be under the influence of alcohol when he was stopped by traffic policemen on the road,” Panda told News18. “He was caught after he jumped a traffic signal. He failed to produce the documents pertaining to his vehicle and his driving skills. He was fined Rs 47,500 for all the different violations we found.”
He has been asked to deposit the penalty amount at the Driving Testing Centre in Chandrasekharpur in Bhubaneswar.
On Tuesday, the Gurugram traffic police had fined a two-wheeler rider Rs 23,000 for flouting multiple rules under the amended Motor Vehicle Act. Dinesh Madan, a resident of East Delhi’s Geeta Colony, was penalised for not carrying the required documents and riding without a helmet.
The Motor Vehicles (Amendment) Bill, 2019, was passed by the Rajya Sabha on July 31 and came into force on September 1. The legislation aims to remove corruption, improve road safety and use technology to regulate traffic. It also enforces stricter penalties for road traffic violations.
On the first day after it was implemented, 39,000 drivers were fined for several offences, including for triple-riding, pollution norms and tampered number plates, among other violations.



Odisha: Auto driver fined Rs 47,500 for traffic violations in Bhubaneswar
 

adsatinder

explorer
Digilocker can save you from steep traffic fines! Carry driving licence, RC, insurance electronically. Here’s how
Worried after Delhi man fined Rs 23,000 for traffic offences or caught by traffic police? Know your rights! Digital presentation of documents is valid according to a notice issued by the Ministry of Road Transport and Highways.
By: Express Drives Desk
September 4, 2019 1:34:33 PM
Image Credits: PTI
Revisions to the Motor Vehicle Act 1988 brings in hefty fines for traffic violations among other provisions. The revised fines came into force starting September 1st. And already we have come across cases in which a man from Delhi was fined Rs 23,000 while another was served with challans amounting to as much as Rs 32,500 by traffic police personnel. Apart from the disobeying of traffic rules, one of the major reasons for the issue of such hefty challans is people not being able to present valid documents of their respective vehicles when stopped by the traffic police. Though carrying of valid documents of your vehicle is absolutely necessary, it is not required that you must have physical copies of the same.
Image Credits: Twitter
According to a circular issued by the Ministry of Road Transport and Highways (MoRTH) dated 17.12.2018, documents such as Driving License, Registration Certificate, Insurance and PUC can be presented in the electronic form. The ministry has also written to all the state transport department to treat electronic copies of driving license and other required documents on the Digilocker or mParivahan app as valid and on par with the original. On the Digilocker app, one can upload scanned copies of the documents in PDF, JPEG or PNG format. To use this app, one has to simply download the same in his/her smartphone and create an account with the help of the Aadhar number and mobile number.
The electronic copies of documents are only valid if they are stored in Digilocker or mParivahan app. Producing the same to a traffic police personnel in the form of a clicked image will still land you in trouble. So the next time when you are stopped by the traffic police and asked to produce your documents, you can do the same by showing them the electronic-copies which are stored in the Digilocker or mParivahan app.


 

adsatinder

explorer
Check this thread for Digilocker :

.
 

adsatinder

explorer
Man Allegedly Set His Bike On Fire Today After Delhi Traffic Police Issued Challan In Delhi
11 हजार का चालान कटने पर युवक ने बाइक में लगा दी आग, जांच में जुटी पुलिस
न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Thu, 05 Sep 2019 10:17 PM IST

युवक ने बाइक में लगा दी आग

युवक ने बाइक में लगा दी आग - फोटो : ANI


संशोधित व्हीकल एक्ट लागू हुए गुरुवार को पांच दिन ही हुए हैं कि उसके अब साइड इफेक्ट सामने आने लग गए हैं। शेख सराय इलाके में 11 हजार रुपये का चालान होने पर युवक ने इस कदर आपा खो दिया कि उसने अपनी पल्सर बाइक में आग लगा दी।

युवक शराब पीकर बाइक चला रहा था और उसने तय सीमा से बहुत ज्यादा शराब पी रखी थी। युवक ने हेलमेट भी नहीं लगा रखा था। मालवीय नगर थाना पुलिस ने गुरुवार देर रात मामला दर्ज कर युवक को गिरफ्तार करने की कार्रवाई शुरू कर दी है।

दक्षिण जिले के अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त परविंदर सिंह के अनुसार पुलिस को गुरुवार शाम करीब सवा पांच बजे सूचना मिली कि राकेश(30) पुत्र पारस नामक युवक ने त्रिवेणी कॉम्पलेक्स, चिराग दिल्ली में अपनी बाइक पर आग लगा दी है। सूचना के बाद मालवीय नगर थाना पुलिस मौके पर पहुंची।

पुलिस को जांच में पता लगा कि ट्रैफिक पुलिस ने एपीजे स्कूल के नजदीक ड्रंकन ड्राइव अभियान चला रखा था। इस अभियान के तहत सर्वोदय एंक्लेव, मालवीय नगर निवासी राकेश को रोका गया। राकेश ने हेलमेट नहीं लगा रखा था। इसके अलावा जब एल्कोमीटर से चैक किया गया तो उसने तय सीमा से ज्यादा शराब पी रखी थी। युवक ने 200 एमजी शराब पी रखी थी, तय सीमा 50 एमजी है।

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस अधिकारियों के अनुसार संशोधित व्हीकल एक्ट के तहत शराब पीकर बाइक चलाने पर 10 हजार का और बिना हेलमेट बाइक चलाने पर एक हजार का चालान किया गया था। राकेश का कोर्ट का चालान किया गया था। चालान कटने के बाद युवक बाइक से कागजात निकालने का बहाना करने लगा और उसने कुछ ही देर में बाइक में आग लगा दी। आग से युवक की बाइक पूरी तरह जल गई।

ट्रैफिक पुलिसकर्मियों ने इसकी सूचना 100 नंबर पर पुलिस कंट्रोल रूम और फायर ब्रिगेड को दी। फायर ब्रिगेड की एक गाड़ी मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाती तब तक बाइक पूरी जल गई थी। मालवीय नगर थाना ने युवक के खिलाफ आग लगाने का मामला दर्ज कर लिया है। युवक को गिरफ्तार करने की कार्रवाई की जा रही है। युवक मौके पर अपनी बाइक की कीमत करीब 15 हजार रुपये बता रहा था। इस घटना को देखने के लिए मौके पर भारी भीड़ जमा हो गई थी। राकेश पहले होटल में काम करता था। फिलहाल वह बेरोजगार है।


 

adsatinder

explorer
Now Traffic Police Will Not Impose Challan By Hiding Behind Tree

दिल्ली: अब पेड़ के पीछे छिपकर चालान नहीं काटेंगे ट्रैफिक पुलिस

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Thu, 05 Sep 2019 07:39 PM IST


ट्रैफिक पुलिस


ट्रैफिक पुलिस - फोटो : अमर उजाला


ट्रैफिक पुलिसकर्मी अब पेड़ की आड़ लेकर चालान नहीं काट रहे हैं। इसका कारण है कि ट्रैफिक पुलिसकर्मियों को चालान करने का टारगेट नहीं मिल रहा है। इससे ट्रैफिक पुलिसकर्मी काफी खुश हैं। अब उसी का चालान किया जा रहा है जो ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करता हुआ दिखाई दे रहा है। पुलिसकर्मी चालान काटने की चिंता को छोड़कर सुचारु यातायात व्यवस्था पर जोर दे रहे हैं।

ये भी पढ़ें- पड़तालः रात 11 बजे के बाद ट्रैफिक पुलिस नदारद, वाहन बेलगाम

गौरतलब है कि 31 अगस्त तक ट्रैफिक पुलिसकर्मी पेड़ के पीछे छिपकर चालान करते थे। पुलिसकर्मी पेड़ या फिर किसी चीज की आड़ में छिपकर खड़े रहते थे। जैसे ही कोई वाहन चालक ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करता था तो पुलिसकर्मी तुरंत सड़क पर आकर उसे पकड़ लेता था और उसका चालान कर देता था।

दिल्ली ट्रैफिक की दक्षिणी रेंज के एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि 31 अगस्त तक दिल्ली पुलिस के हर सर्किल ट्रैफिक इंस्पेक्टर और जैडो को चालान करने का टारगेट दिया जाता था। अगर चालान करने का टारगेट पूरा नहीं होता था तो सर्किल इंस्पेक्टर और जैडी को एक्सप्लेशन (सजा जैसा) दिया जाता था। टीआई और जैडो अपने टारगेट को पूरा करने के लिए चालान करने के लिए अलग-अलग तरीके अपनाते थे।

इसी रेंज के दूसरे ट्रैफिक पुलिस अधिकारी ने बताया कि जब से संशोधित व्हीकल एक्ट लागू हुआ है तब से यानी एक सितंबर से टीआई और जैडो को चालान का टारगेट नहीं दिया जा रहा है। ऐसे में उनके ऊपर चालान करने का प्रेशर खत्म हो गया है।

दिल्ली ट्रैफिक के नरेला सर्किल के एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि अब चालान करने का प्रेशर ऊपर से नहीं आ रहा है। अब जितने चालान हो रहे हैं उतने ही किए जा रहे हैं।


दिल्ली: अब पेड़ के पीछे छिपकर चालान नहीं काटेंगे ट्रैफिक पुलिस
 
Top