New Motor Vehicle Act 2019 from 1 September in India - Pay Huge Fines

adsatinder

explorer
Delhi News: Bikaner ट्रक का ₹1,41,700 का Challan कटा, ओवरलोडिंग करना पड़ा भारी
3,993 views



32
6



News18 India

Published on Sep 10, 2019


SUBSCRIBE 5.6M
Delhi में Bikaner ट्रक का ₹1,41,700 का Challan कटा, ओवरलोडिंग करने पर Rs 70000 का चालान | रोहिणी कोर्ट में ट्रक मालिक ने जमा करवाए पैसे |
 

adsatinder

explorer
वरलोडिंग करने वाले ट्रक का कटा अब तक का सबसे बड़ा चालान NEWSTAK । EXCLUSIVE
1,660 views



156
10



News Tak


Published on Sep 11, 2019


SUBSCRIBE 5.8M
ओवरलोडिंग करने वाले ट्रक का कटा अब तक का सबसे बड़ा चालान, 1,41,700 रुपए का चालान देख उड़े होश ! NEWSTAK । EXCLUSIVE......................
 

adsatinder

explorer
Challan से बचने का सुपरहिट फ़ॉर्मूला! | देखिये Hum Toh Poochenge Preeti Raghunandan के साथ
20,492 views



179
16


News18 India

Published on Sep 10, 2019


SUBSCRIBE 5.6M
Uttar Pradesh हो या Delhi या फिर Bihar - हर ओर New Motor Vehicle Act के कारण भारी-भरकम Challan ने पूरे देश में सनसनी मचा दी है। पूरे देश से एक से बढ़कर एक ख़बरें सामने आ रहीं हैं। देखिये Preeti Raghunandan की रिपोर्ट Hum Toh Poochenge में।
 

adsatinder

explorer
आराम से चलाएं दूसरे राज्य-शहर की गाड़ियां, इसलिए नहीं कटेगा चालान

बिना एनओसी के आपकी बाइक या कार का चालान (Challan) भी नहीं कटेगा. ऐसा नहीं है कि यह छूट सिर्फ बाइक या कार को ही होगी. कमर्शियल वाहन भी एनओसी के बिना चला सकते हैं.



आराम से चलाएं दूसरे राज्य-शहर की गाड़ियां, इसलिए नहीं कटेगा चालान


प्रतीकात्मक फोटो- दूसरे राज्य और शहर से वाहन खरीदने पर अब एनओसी की जरूरत नहीं होगी.

News18Hindi
Updated: September 11, 2019, 3:28 PM IST

अगर आपके पास किसी दूसरे राज्य या दूसरे शहर की बाइक या कार (Car-Bike) है तो आप उसे आराम से चलाइए. संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट (Motor Vehicle Act) का भी डर नहीं रहेगा. ट्रैफिक (Traffic Police) पुलिस भी आपको परेशान नहीं करेगी. अब आपको एनओसी के लिए परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है. इतना ही नहीं बिना एनओसी के आपकी बाइक या कार का चालान (Challan) भी नहीं कटेगा. ऐसा नहीं है कि यह छूट सिर्फ बाइक या कार को ही होगी. कमर्शियल वाहन भी एनओसी के झंझट में पड़े बिना दूसरे शहर या राज्य के खरीदे गए वाहन को चला सकते हैं.

अब वाहन चालकों की सिरदर्दी नहीं बनेगी एनओसी

रीजनल ट्रांसपोर्ट अफसर रिटायर्ड वीके सिंह बताते हैं, “पहले होता यह था कि अगर आपने किसी दूसरे राज्या या शहर से कोई वाहन खरीदा है तो उसे अपने शहर और राज्य में ट्रांसफर कराने के लिए एनओसी की जरूरत होती थी. यह एनओसी उस शहर का रीजनल ट्रांसपोर्ट आफिस जारी करता था जहां से आपने वाहन खरीदा है. सही बात तो यह है कि एक लम्बी प्रक्रिया के चलते एनओसी के लिए आफिस के कई चक्कर लगाने होते थे.”

अब ऐसे मिलेगी एनओसी से राहत

आज की तारीख में देश के ज्यादातर रीजनल ट्रांसपोर्ट आफिस आनलाइन हो गए हैं. इसी के चलते परिवहन विभाग की पहल पर एनओसी की जरूरत को खत्म किए जाने की कवायद चल रही है. जानकारों की मानें तो अब होगा यह कि जैसे ही आप वाहन खरीदकर अपने शहर और राज्य में आएंगे तो वहां के आफिस में उसका रजिस्ट्रेशन कराने जाएंगे. तब उस आफिस की यह जिम्मेदारी होगी कि वह आनलाइन ही सारी जानकारी जैसे, वाहन से पुराने शहर में कोई एक्सीडेंट तो नहीं हुआ है. वाहन चोरी का तो नहीं है. इसके अलावा वाहन की पूरी जानकारी जैसे इंजन और चेसिस नम्बर आदि नोट कर ले.



आराम से चलाएं दूसरे राज्य-शहर की गाड़ियां, इसलिए नहीं कटेगा चालान
 

adsatinder

explorer
VIDEO: नितिन गडकरी के घर के बाहर युवा कांग्रेस का प्रदर्शन, पुलिस पर उछाला स्कूटर



VIDEO: नितिन गडकरी के घर के बाहर युवा कांग्रेस का प्रदर्शन, पुलिस पर उछाला स्कूटर


इस दौरान कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने एक स्कूटर उठाया हुआ था जिसे उन्होंने पुलिस वालों से हाथापाई के बाद पटक दिया.


News18Hindi
Updated: September 11, 2019, 5:01 PM IST
नई दिल्ली. नए मोटर व्हीकल एक्ट को लेकर यूथ कांग्रेस ने केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के घर के बाहर प्रदर्शन किया है. इस दौरान कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने एक स्कूटर उठाया हुआ था जिसे उन्होंने पुलिस वालों से हाथापाई के बाद पटक दिया. गौरतलब है कि नए मोटर व्हीकल एक्ट में भारी जुर्माना लगाने को लेकर लोगों में विरोध बढ़ता जा रहा है. पीएम मोदी के गृह राज्य गुजरात में भी वहां की सरकार ने जुर्माना कम करने की घोषणा की है. गुजरात के बाद छत्तीसगढ़ और राजस्थान जैसे कांग्रेस शासित राज्यों से भी ऐसी ही खबरें आ रही हैं.






ANI
✔@ANI


#WATCH Delhi: Indian Youth Congress (IYC) holds protest outside the residence of Nitin Gadkari, the Union Minister of Road Transport & Highways, against the amended provisions of the Motor Vehicle Act.
Embedded video
206
4:34 PM - Sep 11, 2019
Twitter Ads info and privacy
116 people are talking about this



VIDEO: नितिन गडकरी के घर के बाहर युवा कांग्रेस का प्रदर्शन, पुलिस पर उछाला स्कूटर
 

adsatinder

explorer
दूसरे राज्य में रजिस्टर हुई RC, कैसे वापस पायें रोड टैक्स?

अगर कार के मालिकाना हक में बदलाव नहीं हुआ है तो आप RC ट्रांसफर के छह महीने के भीतर पुराने रजिस्ट्रेशन वाले राज्य से रोड टैक्स वापस ले सकते हैं

By
Amit Tyagi
,
Updated: Nov 15, 2018, 09.57 AM IST



नोएडा से जयपुर ट्रांसफर होने के बाद एक आईटी कंपनी में काम करने वाले हेमंत सिंह ने जयपुर में कार के रजिस्ट्रेशन के लिए आवेदन किया. इस प्रक्रिया में उन्हें पता लगा कि यूपी में कार के रजिस्ट्रेशन के लिए चुकाया गया रोड टैक्स उन्हें वापस मिल सकता है.

एक बार कार का रजिस्ट्रेशन कराते वक्त आप उसके लिए लाइफ टाइम टैक्स चुकाते हैं.

लेकिन अगर किसी वजह से आप कार दूसरे राज्य में ले जा रहे हैं तो आपको उसका रजिस्ट्रेशन वहां ट्रांसफर कराना पड़ता है. अगर कार के मालिकाना हक में बदलाव नहीं हुआ है तो आप आरसी ट्रांसफर के छह महीने के भीतर पुराने रजिस्ट्रेशन वाले राज्य से रोड टैक्स वापस ले सकते हैं.


इसे भी पढ़ें:
सेकेंड हैंड कार का RC ऑनलाइन ट्रांसफर कैसे होगा?

हर राज्य में हालांकि इसके लिए अलग-अलग नियम हैं.

road


आम तौर पर कार रजिस्ट्रेशन के वक्त 15 साल के हिसाब से रोड टैक्स चार्ज किया जाता है जिसके किसी राज्य में दोबारा रजिस्ट्रेशन करने पर प्रो रेटा बेसिस पर आपको रोड टैक्स रिफंड मिल सकता है.

मसलन अगर रजिस्ट्रेशन के बाद पांच साल कर उस राज्य में चली और उसके बाद दूसरे राज्य में रजिस्ट्रेशन कराया गया तो पहले चुकाई गयी रोड टैक्स की रकम का करीब 66 फीसदी रकम वापस मिल सकता है. स्मार्ट कार्ड फीस और एमसीडी पार्किंग फीस वापस नहीं मिल सकती.

अब तक रोड टैक्स रिफंड की प्रक्रिया ऑनलाइन नहीं हो पाई है. इसके लिए आपको व्यक्तिगत रूप से ही कागजात जमा कराने होंगे. देश के हालांकि सभी शहरों में रजिस्टर्ड कारों के लिए रोड टैक्स रिफंड का दावा किया जा सकता है, अगर आप उसका रजिस्ट्रेशन किसी दूसरे राज्य में करा रहे हों.

इसे भी पढ़ें: क्या समय से पहले कार लोन चुकाने का फैसला सही है?

इसके लिए क्या प्रक्रिया है इस पर डालते हैं एक नजर
टैक्स रिफंड के लिए आवेदन करते वक्त आपको इन दस्तावेजों की जरूरत है
  • कार की चेसिस का इंप्रिंट
  • नए स्मार्ट कार्ड की नोटरी से अटेस्टेड कॉपी, पुराना स्मार्ट कार्ड (ओरिजिनल या नोटरी से अटेस्टेड कॉपी)
  • स्टेट ट्रांसफर एनओसी (फोटो कॉपी)
  • पहली बार में चुकाए गए रोड टैक्स की रसीद
  • नए रोड टैक्स पेमेंट की रसीद (फोटो कॉपी)
  • पहचान का सबूत, नया एड्रेस प्रूफ (जिस पर कार का रजिस्ट्रेशन हुआ है)
  • आरटीओ फॉर्म 16, आरटीओ फॉर्म DT (जो टैक्स रिफंड के लिए लागू हो)
  • रिफंड के लिए आवेदन, साथ में बैंक डीटेल्स/एड्रेस (जिस पर चेक भेजा जा सके)
  • नयी रजिस्ट्रेशन अथॉरिटी से सीआरटीआई सूचना
  • इन सभी दस्तावेजों को नोटरी से अटेस्ट करने के बाद आवेदन पर अपनी फोटो और अपना पता लिखे लिफाफे के साथ जमा करना चाहिए.


ध्यान रखें

  1. समय से रोड टैक्स रिफंड के लिए आवेदन करना जरूरी है.
  2. अगर कार बिक चुकी है तो उस स्थिति में रोड टैक्स वापस नहीं होगा. रोड टैक्स रिफंड पर कार का नया मालिक दावा नहीं कर सकता.
  3. कंपनी के मालिकाना हक वाली कारों के मामले में भी रोड टैक्स वापसी के लिए आवेदन कंपनी ही कर सकती है, उसे यूज करने वाला ईम्प्लाई नहीं, भले ही कंपनी ने उसे कार गिफ्ट कर दिया हो.
  4. अगर नए राज्य में सिर्फ रोड टैक्स चुकाया गया हो, कार का रजिस्ट्रेशन नहीं कराया गया, तब भी रोड टैक्स वापसी का दावा नहीं किया जा सकता.

दूसरे राज्य में रजिस्टर हुई RC, कैसे वापस पायें रोड टैक्स?
 

adsatinder

explorer
*अगर ग्रुप में किसी से मतभेद हो जाए, लड़ाई हो जाए तो...*

*उससे लड़े नहीं, न ही अपशब्द कहें, बस उसकी गाड़ी मांग कर ले जाएं और ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन कर दें!*
 

adsatinder

explorer
Rs 500 for no helmet, Rs 2000 for no licence: Gujarat cuts fines imposed under new MV Act
Gujarat Chief Minister Vijay Rupani said that the fines laid down in the new act were the maximum suggested and his government had reduced them after detailed deliberations.
ADVERTISEMENT

Press Trust of India
Press Trust of India
GandhinagarSeptember 10, 2019UPDATED: September 10, 2019 18:49 IST
Gujarat govt reduces fines stipulated by new Motor Vehicles Act


While new act stipulated fine of Rs 1,000 for riding without helmet, Gujarat government on Tuesday finalised amount at Rs 500 | REUTERS image for representation
HIGHLIGHTS
  • The Motor Vehicles (Amendment) Bill 2019 was passed by Parliament in July
  • Some states pushed it back saying people needed time to get acquainted with enhanced penalties
  • Vijay Rupani pointed out penalties fixed now are still up to 10 times of that charged before new act came into force

The Gujarat government on Tuesday reduced fine amounts stipulated in the new Motor Vehicles Act passed recently.
The Motor Vehicles (Amendment) Bill 2019 was passed by Parliament in July and its steep fines were to come into effect from September 1, though some states pushed it back saying people needed time to get acquainted with the enhanced penalties.
Making the announcement in Gandhinagar, Gujarat Chief Minister Vijay Rupani said that the fines laid down in the new act were the maximum suggested and his government had reduced them after detailed deliberations.
While the new act stipulated a fine of Rs 1,000 for riding without a helmet, the Gujarat government on Tuesday finalised the amount at Rs 500. Similar is the case with driving a four-wheeler without wearing a seat-belt.

The penalty for driving without a licence has been brought down from Rs 5,000, as suggested by the new act, to Rs 2,000 for two-wheelers and Rs 3,000 for four-wheelers.
Claiming that the Gujarat government was not showing leniency to traffic violators by reducing fines, Vijay Rupani pointed out that penalties fixed now are still up to 10 times of that charged before the new act came into force.



Rs 500 for no helmet, Rs 2000 for no licence: Gujarat cuts fines imposed under new MV Act
 

adsatinder

explorer
*आज का ज्ञान*

यदि आप दारू पीकर गाड़ी चला रहे हैं और रास्ते मे चेकिंग करते हुए पुलिस मिल जाये तो....

*अपनी गाड़ी भूलकर भी ना रोकें, फुर्ती से भाग जाए चाहे पुलिस आपकी गाड़ी का नम्बर नोट कर ले।*

क्योंकि पीकर गाड़ी चलाने का जुर्माना *10000रु* है और पुलिस के रोकने पर नही रुकने का *सिर्फ 2000रु*।

एक छोटि सी ज्ञान की बात से सीधे सीधे *8000 रु* बच सकते हैं।
ज्ञान समाप्त.....
 

adsatinder

explorer
Viral Video : Bihar का यह दारोगा बिना हेलमेट चला रहा था गाड़ी, युवक ने पूछा सवाल तो...
18,989 views



770
12

TV9 Bharatvarsh
Published on Sep 8, 2019
Viral Video : Bihar का यह दारोगा बिना हेलमेट चला रहा था गाड़ी, युवक ने पूछा सवाल तो...
बिहार के बक्सर में एक युवक ने बगैर हेलमेट लगाए बाइक से जा रहे पुलिसकर्मी को हेलमेट लगाने की बात कह दी जिसके बाद दोनों आपस में उलझ गए. इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. बताया जा रहा है कि शिक्षक कॉलोनी में रहने वाले कमल कुमार सिंह एक दिन पहले वाहन चेकिंग में पकड़े गए थे. हेलमेट ना पहनने और ड्राइविंग लाइसेंस नहीं रहने पर उनसे 11 हजार रुपये का जुर्माना वसूला गया था.
 
Top