Road conditions - Uttarakhand

Gaurav Dutt

Shivoham Shivoham
What is current road status from Delhi to Jim Corbett


Sent from my iPhone using Tapatalk
Delhi - Ghaziabad = Okay
Ghaziabad - Masoori - Pilakuan = Horrible, due to various diversions because of Delhi-Meerut Expressway. Start early to avoid traffic mess. However, For this only patch, you need Luck.

Pilakuan - Moradabad - Rampur = Okay
Rampur - JimCorbett = Okay
 

mayank_811

New Member
Hi guys,

Planning to do a road trip from Delhi to Doon n Chandigarh.

Will take the Karnal-Ladwa-Y.nagar-Paonta Sahib route for Doon. I require suggestions for Doon-Chd road trip.

Which should be the better route from Doon-Chandigarh... is the road condition of usual Shimla bypass road-Nahan-Kala Amb NH7 doable or another route is preferred?
 

adsatinder

explorer
Hi guys,

Planning to do a road trip from Delhi to Doon n Chandigarh.

Will take the Karnal-Ladwa-Y.nagar-Paonta Sahib route for Doon. I require suggestions for Doon-Chd road trip.

Which should be the better route from Doon-Chandigarh... is the road condition of usual Shimla bypass road-Nahan-Kala Amb NH7 doable or another route is preferred?
Route Via Kala Amb and Narayangarh is fine.


Nahan to Paonta Sahib was good. Ponta to doon is all broken.



If you are hitting the road during peak hrs then stick with Paonta Sahib, Nahan, Naraingarh, Raipur Rani road.
No matter which route you choose Dehradun to Paonta Sahib is a Hassle due to speed breakers


From doon to paonta, there are two routes. One is via herbetpur and another is via old Shimla road or jungle Wala road as locals call it. Former is full of local traffic and latter is with minimal traffic through villages with speed breaker every few hundred meters around villages, if I remember correctly.
 
Last edited:

mayank_811

New Member
Thanks for reply... Is the Paonta sahib-Chandigarh NH full of hilly terrain ? I have driven in hills.. Doon to Mussoorie only, not much. Also, is the road narrow i.e. single lane or its a good enough highway?

Thanks
 

adsatinder

explorer
Is the Paonta sahib-Chandigarh NH full of hilly terrain ?
No.

Also, is the road narrow i.e. single lane or its a good enough highway?
Road is wide enough for a car / Bus.
Just go.
Don't worry as there will not be much traffic in summers.


A BCMTian's reply:
It's almost flat gradient all the way to nahan. Around nahan, hilly sections are there but not something a delhi driver can't handle and road is typical single lane hill road. From there, you get butter smooth 4 lane proper highway road to Chandigarh, though there are few diversions.
 
Last edited:

adsatinder

explorer
Photometric Registration will start from 22 April 2019 at Rishikesh and and at main points for Chardham Yatra.
.





ऋषिकेश में आज से शुरू होगा चारधाम यात्रियों का रजिस्ट्रेशन•विशेष संवाददाता, देहरादून



चारधाम यात्रियों का रजिस्ट्रेशन आज (22 अप्रैल) से ऋषिकेश में शुरू होगा। इसके लिए पर्यटन विभाग ने संबंधित कंपनी को निर्देश जारी कर दिए हैं। विभागीय अधिकारियों ने इस साल भी उसी कंपनी का कार्यकाल बढ़ाया है जो पिछले पांच साल से पंजीकरण का काम देख रही है। हालांकि पिछले दिनों इस कंपनी के कारिंदों ने पंजीकरण 25 अप्रैल से करने की बात कही थी लेकिन पर्यटन विभाग ने उसे 22 अप्रैल से शुरू करने को निर्देशित कर दिया है।

केदारनाथ धाम के कपाट 9 मई, श्री बदरीनाथ धाम के कपाट 10 मई को खुलेंगे। जबकि गंगोत्री और यमुनोत्री के कपाट 7 मई को खुल रहे हैं। लेकिन, इससे पहले ही उन यात्रियों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया है जो पैदल यात्रा करते हैं। इसके बाद दुबाटा, बड़कोट, हीना उत्तरकाशी, फाटा केदारनाथ मार्ग, सोनप्रयाग केदारनाथ मार्ग, पांडुकेश्वर बद्रीनाथ मार्ग, गोविंद घाट हेमकुंठ साहिब, रेलवे स्टेशन हरिद्वार, राही मोटल हरिद्वार, गुरुद्वारा ऋषिकेश और बस स्टैंड ऋषिकेश में चारधाम यात्रा के लिए फोटोमैट्रिक पंजीकरण केंद्र खोले जाएंगे।



 

adsatinder

explorer
Char Dham Yatra 2019 Registration Will Start From 22nd April
चारधाम यात्रा: पंजीकरण करने वाली कंपनी का कार्यकाल बढ़ाया, 22 अप्रैल से होगा शुरू
न्यूज डेस्क, अमर उजाला, देहरादून Updated Sun, 21 Apr 2019 10:50 AM IST
चार धाम


चार धाम - फोटो : अमर उजाला फाइल फोटो

चारधाम यात्रियों का पंजीकरण ऋषिकेश में 22 अप्रैल से शुरू होगा। इसके लिए पर्यटन विभाग ने संबंधित कंपनी को निर्देश जारी कर दिए हैं। लेकिन, इसके लिए विभागीय अधिकारियों ने उसी कंपनी का कार्यकाल बढ़ाया है जो पिछले पांच साल से पंजीकरण का काम देख रही है।

केदारनाथ धाम के कपाट नौ मई, श्री बदरीनाथ धाम के कपाट 10 मई को खुलेंगे। जबकि गंगोत्री और यमुनोत्री के कपाट सात मई को खुल रहे हैं। लेकिन, इससे पहले ही उन यात्रियों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया है जो पैदल यात्रा करते हैं।

यात्रा सीजन में कितने यात्री प्रदेश में आए, इसका आकलन करने के लिए राज्य सरकार और पर्यटन विभाग की ओर से ऋषिकेश में पंजीकरण केंद्र खोला जाता है। पिछले पांच साल से हैदराबाद की त्रिलोक सिक्योरिटी नामक कंपनी यात्रियों का पंजीकरण कर रही थी।

कंपनी का अनुबंध इसी वर्ष समाप्त हो गया था। लेकिन, पर्यटन विभाग इस वर्ष नई कंपनी का चयन नहीं कर पाई। जिला पर्यटन विकास अधिकारी सतीश बहुगुणा ने बताया कि फिलहाल उसी कंपनी का कार्यकाल बढ़ाया है। साथ ही यात्रियों का पंजीकरण ऋषिकेश में 22 अप्रैल से शुरू होगा।


चारधाम यात्रा: पंजीकरण करने वाली कंपनी का कार्यकाल बढ़ाया, 22 अप्रैल से होगा शुरू
 
Last edited:
Top