The Weather and Meteorology thread

adsatinder

explorer
NOIDA EARTHQUAKE

3.0 magnitude earthquake hits Delhi, Noida, Faridabad surrounding areas

Delhi and near-by areas have experienced at least 6-7 earthquakes in the last one month.

3.0 magnitude earthquake hits Delhi, Noida, Faridabad surrounding areas



Written By:

Zee Media Bureau


Edited By:

Pushkar Tiwari

Updated:
Jun 03, 2020, 23:28 PM IST


New Delhi:
An earthquake of 3.2 magnitude hit Delhi, Noida and the surrounding areas on Wednesday (June 3, 2020).
According to the National Center for Seismology (NCS), "Earthquake of magnitude 3.0 struck 17km East of Faridabad (Haryana) at 10:42 pm today."
No casualties or major damage were reported at the time of filing this copy.

Earlier on May 29, a mild intensity earthquake of 4.6 magnitude on Richter scale jolted parts of eastern Haryana and Delhi-National Capital Region (NCR) at 9.08 pm. The earthquake's epicentre was Rohtak in Haryana and the depth was 3.3 kilometres.
Delhi and near-by areas have experienced at least 6-7 earthquakes in the last one month, increasing tension for the people who are already facing troubles due to coronavirus COVID-19 pandemic.
While speaking to Dr Soumitra Mukherjee, Professor of Geology at Jawaharlal Nehru University over the topic on frequent earthquakes in the past few weeks, he said that there is no need to worry about it as these tremors occur every year but yes it is necessary to be vigilant.

According to the opinion of experts, there are small earthquake tremors in Delhi which are 3-4 standard on the Richter scale. However, the danger is when the earthquake magnitude is above 4 on the Richter scale, especially in those areas where the houses are not strongly built.
'However, no major earthquake shock has been predicted yet. But because Delhi Seismic Zone reads in four, it is necessary that these houses have a safety audit,'' he added.

3.0 magnitude earthquake hits Delhi, Noida, Faridabad surrounding areas
 

adsatinder

explorer
1 हफ्ते में दूसरी बार नोएडा में भूकंप, साल में 10 बार हिल चुका है दिल्ली-NCR

दिल्ली-एनसीआर के कई इलाकों में बीते कुछ माह में भूकंप के कई झटके महसूस किए गए हैं. बीते करीब दो महीने की ही बात करें तो दिल्ली-एनसीआर में 7 बार भूकंप आ चुका है. बीते एक साल में दिल्ली-एनसीआर में 10 बार भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं.

प्रतीकात्मक तस्वीर


प्रतीकात्मक तस्वीर


aajtak.in
नई दिल्ली, 04 जून 2020, अपडेटेड 07:27 IST



  • दिल्ली से सटे नोएडा में बुधवार रात महसूस किए गए भूकंप के झटके
  • दिल्ली-एनसीआर में एक साल में 10 बार आ चुका है भूकंप


दिल्ली से सटे नोएडा में बुधवार रात भूकंप के झटके महसूस किए गए. रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 3.2 मापी गई. भूकंप का केंद्र दक्षिण-पूर्व नोएडा में था. एक हफ्ते में ये दूसरी बार था जब नोएडा में झटके महसूस किए गए. इससे पहले 29 मई को भी दिल्ली-एनसीआर के कई इलाकों में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. नोएडा के साथ दिल्ली-एनसीआर के कई इलाकों में बीते कुछ माह में भूकंप के कई झटके महसूस किए गए हैं.
बीते करीब दो महीने की ही बात करें तो दिल्ली-एनसीआर में 7 बार भूकंप आ चुका है. हालांकि राहत की बात ये रही कि कम तीव्रता के कारण किसी प्रकार का नुकसान नहीं हुआ.
दरअसल, भूकंप को मापने के लिए भारत को जोन 2, जोन 3, जोन 4 और जोन 5 में बांटा गया है. राजधानी दिल्ली और उसके आसपास का इलाका जोन 4 में आता है. ये वो जोन है, जहां 7.9 तीव्रता तक का भूकंप आ सकता है. कई रिपोर्ट्स बताती हैं कि भूकंप के लिहाज से दिल्ली काफी संवेदनशील इलाका है.

भूकंप के लिहाज से दिल्ली कितनी संवेदनशील है, इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि बीते एक साल में ही दिल्ली-एनसीआर में 10 बार भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं.
दिल्ली-एनसीआर में एक साल में कब-कब महसूस किए गए भूकंप के झटके

3 जून, 2020-
नोएडा में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 3.2 मापी गई है. रात 10 बजकर 42 मिनट पर झटके महसूस किए गए. भूकंप का केंद्र दक्षिण-पूर्व नोएडा में था.
29 मई, 2020- दिल्ली और इसे सटे कई इलाकों में भूकंप के झटके महसूस किए गए. रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 4.6 मापी गई.
28 मई, 2020- 29 मई के एक दिन पहले भी दिल्ली में भूकंप आया था. इसकी तीव्रता 2.5 थी. यानी 24 घंटे के अंदर दो बार भूकंप के झटके महसूस किए गए थे.

15 मई, 2020-15 मई को दिल्ली में भूकंप का झटका महसूस किया गया था. हालांकि, रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता केवल 2.2 थी.
10 मई, 2020- 10 मई को दोपहर में करीब 1.45 बजे भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 3.5 थी.
13 अप्रैल, 2020- 13 अप्रैल को आए भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 2.7 थी. भूकंप का केंद्र दिल्ली ही था.
12 अप्रैल, 2020- रिक्टर स्केल पर भूंकप की तीव्रता 3.5 मापी गई है. कोरोना वायरस से निपटने के लिए देश में लॉकडाउन था. इसके बीच दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद में भूकंप के झटके महसूस किए गए.
20 दिसंबर, 2019- शाम 5 बजकर 9 मिनट पर दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. भूकंप की तीव्रता 6.8 मापी गई. इस भूकंप का केंद्र अफगानिस्तान के काबुल में उत्तर-पूर्व में था.
19 नवंबर, 2019- दिल्ली, यूपी समेत उत्तर भारत के कुछ हिस्सों में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. भूकंप का केंद्र बिंदु भारत-नेपाल था. रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 5 मापी गई.
24 सितंबर, 2019- दिल्ली-एनसीआर में 6.1 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए. ये झटके शाम करीब 4 बजकर 35 मिनट पर महसूस हुए. भूकंप के झटके काफी तेज थे. दिल्ली एनसीआर के साथ ही कश्मीर में तेज झटके महसूस हुए. पूरे उत्तर भारत में भूकंप को महसूस किया गया.



1 हफ्ते में दूसरी बार नोएडा में भूकंप, साल में 10 बार हिल चुका है दिल्ली-NCR


ये भी पढ़ें- दिल्ली-एनसीआर में कितना बड़ा है भूकंप का खतरा, क्या है तैयारी

ये भी पढ़ें-दिल्ली में क्यों हमेशा बना रहता है भूकंप का खतरा? जानें खतरे के किस जोन में है राजधानी
 

adsatinder

explorer
Monsoon Alert: मॉनसून की रफ्तार तेज, अगले 48 घंटों में इन राज्यों में दे सकता है दस्तक

aajtak.in

नई दिल्ली, 10 June, 2020

Monsoon Alert For Haevy Rain Weather Forecast Updates: मॉनसून अगले 48 घंटे में महाराष्ट्र, गोवा, कर्नाटक, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में दस्तक दे सकता है. इधर, बंगाल की खाड़ी के ऊपर बने कम दबाव के क्षेत्र के कारण चक्रवाती हवाओं के चलने की संभावना है. बंगाल की खाड़ी में बने दवाब क्षेत्र से मॉनसून को और गति मिलेगी और ये तेजी से आगे बढ़ेगा.

Bengal

बंगाल की खाड़ी में बन रहा दबाव क्षेत्रमहाराष्ट्र में जल्द दस्तक दे सकता है मॉनसून

भारत के दक्षिणी हिस्से में आगमन के साथ ही मॉनसून ने रफ्तार पकड़ ली है. यह चेन्नई, चित्तूर, तुमुकुरु, शिमोगा, करवार को पार कर चुका है. अगले 48 घंटे में मॉनसून महाराष्ट्र, गोवा, कर्नाटक, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में दस्तक दे सकता है. इधर, बंगाल की खाड़ी के ऊपर बने कम दबाव के क्षेत्र के कारण चक्रवाती हवाओं के चलने की संभावना है. बंगाल की खाड़ी में बने दवाब क्षेत्र से मॉनसून को और गति मिलेगी और ये तेजी से आगे बढ़ेगा.

मौसम विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है. इससे मॉनसून को मिलने वाली गति के कारण अगले 24 घंटों के दौरान अरब सागर के मध्य में, महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों में, कर्नाटक और रायलसीमा के कुछ इलाकों में, तमिलनाडु के बाकी हिस्सों में, ओडिशा, उत्तर तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, उत्तर कोंकण और केरल में भारी वर्षा होने की संभावना है.

इसके अलावा प्री-मॉनसून की गतिविधियों के चलते छत्तीसगढ़ और दक्षिण मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में भी 12 जून तक भारी वर्षा की संभावना है. मौसम विभाग के अनुसार, पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी, दक्षिण-पश्चिम और पश्चिम-मध्य अरब सागर के ऊपर और आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों में तेज हवाएं चलने की संभावना है. इसके मद्देनजर मौसम विभाग ने इन क्षेत्रों में मछुआरों को दूर रहने और समुद्र में नहीं उतरने की हिदायत दी है.





 

adsatinder

explorer
IMD predicts heavy rains in Konkan, Goa, Telangana in next 24 hrs
By
ChiniMandi
-
Friday, 12 June 2020, 5:26 pm



Representational Image

New Delhi [India], June 12 (ANI): The India Meteorological Department (IMD) on Friday predicted heavy to very heavy rainfall in Konkan, Goa and Telangana in the next 24 hours.
Madhya Maharashtra, Marathawada, coastal Andhra and Yanam, north interior Karnataka, Chhattisgarh, Telangana, Vidarbha, Assam and Meghalaya are likely to get “isolated heavy to very heavy rainfall”.

“Under the influence of low pressure, scattered heavy to very heavy with isolated extremely heavy rainfall likely over Konkan and Goa. Isolated heavy to very heavy rainfall over madhya Maharashtra, Marathawada, coastal Andhra and Yanam, north interior Karnataka, Chhattisgarh, Telangana, Vidarbha, Assam and Meghalaya in next 24 hours,” the IMD said.
The weather agency further informed that conditions are becoming favourable for further advance of south-west monsoon into some more parts of Central Arabian Sea, remaining parts of Maharashtra, including Mumbai, Odisha and West Bengal and some more parts of Chhattisgarh and south Gujarat, south Madhya Pradesh, Jharkhand and Bihar during the next 48 hours.
On Thursday, an ‘orange alert’ was issued for Konkan as Monsoon has entered Maharashtra and is likely to cover the whole state by June 15.
Anupam Kashyapi, Head of the Weather Department, IMD Pune said, “The monsoon has reached Solapur on Thursday via Goa. An orange alert has been issued in the Konkan district. Whereas Goa and Madhya Maharashtra are expected to get widespread rain and heavy to very heavy rainfall for the next 2-3 days.”
An orange alert is issued for heavy to very heavy rainfall.
“From tomorrow onwards heavy rainfall is expected in ghat areas of Pune. Monsoon is expected to be cover Maharashtra by 15 June,” he added. (ANI)




IMD predicts heavy rains in Konkan, Goa, Telangana in next 24 hrs - ChiniMandi
 
Top