The Weather and Meteorology thread

adsatinder

explorer
HomeHimachal PradeshShimla › Heavy Rainfall Warning For Two Days In Himachal
हिमाचल में दो दिन भारी बारिश की चेतावनी, इन जिलों में बरसेंगे बादल
न्यूज डेस्क, अमर उजाला, शिमला Updated Mon, 22 Jul 2019 03:49 PM IST

heavy rainfall warning for two days in himachal

- फोटो : अमर उजाला


मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने हिमाचल में दो दिन भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। विभाग के ताजा पूर्वानुमान के मुताबिक राज्य में 25 और 26 जुलाई को भारी बारिश होगी।
विज्ञापन


प्रदेश में 28 जुलाई तक मौसम खराब बना रहेगा। सोमवार को प्रदेश में मौसम मिलाजुला बना रहा। राजधानी शिमला में दिन भर बादल छाए रहे। दिन के समय हल्की बूंदाबांदी भी हुई।

जिला मुख्यालय धर्मशाला में दोपहर बाद हल्की बारिश हुई, जबकि जिला के अन्य क्षेत्रों में बादल तो छाए रहे, लेकिन बारिश नहीं हुई। सोमवार को अधिकांश क्षेत्रों में मौसम साफ रहने से अधिकतम तापमान में दो से तीन डिग्री की बढ़ोतरी दर्ज हुई।

सोमवार को ऊना में अधिकतम तापमान 36.0, सुंदरनगर-भुंतर में 33.0, चंबा में 31.9, कांगड़ा में 31.7, नाहन में 31.1, सोलन में 30.5, धर्मशाला में 28.8, शिमला में 25.2, कल्पा में 24.8, केलांग में 21.0 और डलहौजी में 19.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ।


हिमाचल में दो दिन भारी बारिश की चेतावनी, इन जिलों में बरसेंगे बादल
 

adsatinder

explorer
Weather Forecast Today HIGHLIGHTS: IMD issues red alert in Kerala, rains lash Delhi, Rajasthan
Weather forecast Today India HIGHLIGHTS: Due to strong wind convergence occurring over Kerala and adjoining areas of Karnataka and Tamil Nadu, the present weather condition is likely to continue for the next three days causing widespread rainfall.

By Express Web Desk |New Delhi |Updated: July 21, 2019 10:31:51 pm


weather, weather today, today weather, monsoon news today, temperature, temperature today, weather report, weather warning, weather report today, weather forecast, tempertaure today, monsoon, monsoon today, weather forecast today, weather forecast report, weather forecast today in delhi, delhi weather, noida weather


High waves batter seawall at Valiyathura in Thiruvananthapuram. (Express photo: Nidhin A S)


Weather forecast Today India HIGHLIGHTS: Heavy rains lashed over several parts of Kerala and north Konkan Sunday. Due to strong wind convergence occurring over Kerala and adjoining areas of Karnataka and Tamil Nadu, the present weather condition is likely to continue for the next three days causing widespread rainfall.

Meanwhile, Delhi-NCR witnessed heavy rains today which inundated several parts of the city and caused severe traffic snarls. There was a slight drop in temperature to 27 degrees Celcius. Rajasthan too experienced rains with thundershowers and lightning.
The India Meteorological Department (IMD) Sunday predicted heavy to very heavy rainfall at isolated places over coastal and south interior Karnataka, Andaman & Nicobar Islands, south Konkan and Goa and heavy rainfall at isolated places over North Interior Karnataka, Tamil Nadu, Puducherry, Karaikal, Telangana, south Gujarat, Marathawada, Sub-Himalayan West Bengal, Sikkim, Arunachal Pradesh, Assam and Meghalaya.
Also, rough to very rough sea conditions (with wind speed reaching 40-50 kmph) are likely to prevail over southeast Bay of Bengal and southwest and the west-central Arabian Sea. Squally weather is predicted along and off Maharashtra coast as a result of which fishermen have been advised not to venture into these areas.
The Monsoon trough at mean sea level lies to the south of its normal position. However, it is likely to shift northwards and deepen from 24th July, causing enhanced rainfall activity over north and Central India.




Weather Forecast Today HIGHLIGHTS: IMD issues red alert in Kerala, rains lash Delhi, Rajasthan
 

adsatinder

explorer
Weather Forecast July 23: Heavy rains continue to batter Kerala and Coastal Karnataka, alert sounded
4,464 views



94
2



Skymet Weather
Published on Jul 22, 2019


SUBSCRIBE 390K
Strong convergence of monsoon westerlies are likely to continue over the southern most states of Kerala, Karnataka and adjoining ghat districts of Tamil Nadu during next 48 hours causing widespread rainfall with isolated heavy to very heavy and extremely heavy falls during the period.
 

adsatinder

explorer
IMD predicts heavy to very heavy rainfall in six districts of Uttarakhand on 24 and 25 July
India Asian News International Jul 22, 2019 17:25:45 IST

Dehradun: Heavy to very heavy rainfall is likely to occur at isolated places in Uttarakhand , especially in Nainital, Champawat, Pithoragarh, Udham Singh Nagar, Dehradun and Pauri districts of the state on 24 and 25 July, the India Meteorological Department (IMD) has said.

 IMD predicts heavy to very heavy rainfall in six districts of Uttarakhand on 24 and 25 July
Representative Image. ANI

In its bulletin, IMD has also predicted strong convergence of monsoon westerlies are likely to continue over the southernmost states of Kerala, Karnataka and some districts of Tamil Nadu during next 48 hours causing widespread heavy to very heavy and extremely heavy rains during the period.

Nagaland is likely to cause widespread heavy to very heavy and extremely heavy rainfalls over sub-Himalayan West Bengal, Sikkim, Assam, Meghalaya, and Arunachal Pradesh during next 48 hours.
The monsoon trough is very likely to shift southwards from its current position and deepen gradually from 24 July. In this scenario, the rainfall activity is very likely to increase over central India, adjoining northern parts of peninsular India and also along the northern plains from 24 July for the subsequent 3-4 days.
Hence, fairly widespread heavy rainfalls are likely over Madhya Pradesh, Chhattisgarh, Odisha, Uttar Pradesh, Haryana, Chandigarh and Delhi, Punjab, Rajasthan, Maharashtra, and Goa during this period.
Updated Date: Jul 22, 2019 17:25:45 IST

IMD predicts heavy to very heavy rainfall in six districts of Uttarakhand on 24 and 25 July - Firstpost
 

adsatinder

explorer
After a Brief Pause, Heavy Rains Set to Return to Delhi on Thursday
By TWC India Edit Team
23 hours ago
TWC India





Waterlogged streets in New Delhi due to heavy rains on July 21, 2019.
(IANS)

After heavy downpour over the weekend, the monsoon rains have subdued in the national capital Delhi. On Monday, only some parts of the city received rainfall with Safdarjung, which is the base monitoring station for Delhi, recorded 3.6 mm rainfall. A maximum of 25 mm was recorded at Delhi Ridge.
Over the weekend, Delhi received substantial rainfall. On Sunday, the monitoring station at Aya Nagar recorded a massive 106 mm rainfall within just 9 hours from 8.30 am to 5.30 pm. This was the first spell of ‘heavy’ rain in Delhi during this monsoon season. India Meteorological Department (IMD) classifies a spell of rainfall as heavy if it crosses 64.5 mm in 24 hours. While the rain provided much-needed relief from the persistent hot and sultry conditions, it brought the national capital to a standstill with waterlogging reported from many parts of the city.
While the light to moderate rains continued on Monday and Tuesday, heavy rainfall is on the cards for Delhi from Thursday onwards. The regional met centre has issued an orange alert for Delhi for Thursday and Friday forecasting a generally cloudy sky with widespread rain and thundershowers. Isolated spells of heavy rains are forecast for the city. The Weather Channel forecast suggests a very high probability of 80-90% rainfall and thunderstorms from Thursday to Sunday. The temperatures are also expected to drop substantially in Delhi NCR, and the conditions from Friday and Saturday could be 4 to 8°C cooler than normal across the region.

IMD forecasts that the monsoon trough is very likely to shift southwards and hence more rains are expected across the northern plains as well as central India marking the end of the pause in monsoon rainfall. The rainfall deficit over Delhi has come down to 64%, but it remains the driest among all the states and union territory


After a Brief Pause, Heavy Rains Set to Return to Delhi on Thursday | The Weather Channel
 

adsatinder

explorer
HomeIndia News › Heavy Rainfall In Mumbai, Meteorological Department Warn North India
यूपी-हिमाचल सहित कई राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी, बिहार-असम में बाढ़ से हाहाकार

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Wed, 24 Jul 2019 06:53 AM IST


Mumbai Rain

Mumbai Rain - फोटो : ANI


मुंबई में मंगलवार देर रात एक बार फिर भारी बारिश हुई है, जिससे कई इलाकों में जलभराव की स्थिति बन गई है। वहीं मौसम विभाग ने उत्तर भारत के दिल्ली एनसीआर समेत कई राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी दी है। वहीं बाढ़ से देशभर में अब तक कुल 174 लोगों की मौत हो गई है। इनमें बिहार में 106 जबकि असम में मरने वालों की संख्या 68 है।



ANI

✔@ANI

https://twitter.com/ANI/status/1153832101797683201

Maharashtra: Water logging in parts of Mumbai following rainfall; visuals from Gandhi Market in Sion.
View image on TwitterView image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter

156

6:29 AM - Jul 24, 2019
Twitter Ads info and privacy

48 people are talking about this




बिहार के 12 जिलों में आई बाढ़ से अब तक 80 लाख 85 हजार से अधिक की आबादी प्रभावित हुई है। आपदा प्रबंधन विभाग से बुधवार को प्राप्त जानकारी के मुताबिक, बाढ़ से प्रभावित बिहार के 12 जिलों में शिवहर, सीतामढ़ी, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, मधुबनी, दरभंगा, सहरसा, सुपौल, किशनगंज, अररिया, पूर्णिया एवं कटिहार शामिल हैं।

मरने वालों में सीतामढ़ी के 27, मधुबनी के 25, अररिया के 12, शिवहर एवं दरभंगा के 10-10, पूर्णिया के 9, किशनगंज के 5, सुपौल के 3, पूर्वी चंपारण एवं मुजफ्फरपुर के 2-2 और सहरसा का एक व्यक्ति शामिल है।

बाढ़ प्रभावित 12 जिलों में कुल 54 राहत शिविर चलाए जा रहे हैं जिसमें 29,400 लोगों ने शरण ले रखी है और उनके भोजन की व्यवस्था के लिए 812 सामुदायिक रसोई चलाई जा रही हैं। बाढ़ प्रभावित इलाके में राहत एवं बचाव कार्य के लिए एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की कुल 26 टीमें तैनात की गई हैं तथा 125 मोटरबोट का इस्तेमाल किया जा रहा है।

केंद्रीय जल आयोग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, बिहार की नदियां बूढ़ी गंडक, बागमती, अधवारा समूह, कमला बलान, कोसी, महानंदा और परमान नदी विभिन्न स्थानों पर खतरे के निशान से ऊपर बह रही थीं। भारत मौसम विभाग के अनुसार बिहार की सभी नदियों के जलग्रहण क्षेत्रों में बुधवार सुबह तक साधारण बारिश की संभावना जतायी गयी है।
असम में मरने वालों की संख्या हुई 68, दो जिलों में फिर घुसा पानी
असम में बाढ़ के कारण मंगलवार को दो और व्यक्तियों की मौत के साथ मरने वालों की संख्या 68 तक पहुंच गई है। वहीं बाढ़ की स्थिति भयावह बनी हुई है। 19 जिलों में करीब 28.01 लाख लोग उससे प्रभावित हुए हैं।

असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अनुसार गोलाघाट जिले के काजीरंगा नेशनल पार्क में 13 जुलाई से अब तक मरने वाले जानवरों की संख्या बढ़कर 204 हो गई है जिनमें 15 गैंडे हैं। प्राधिकरण ने कहा कि वैसे विश्वनाथ और कारबी आंगलोंग जिलों में पानी घटा है लेकिन लखीमपुर और बक्सा में फिर बाढ़ का प्रकोप शुरू हो गया है।

प्राधिकरण के बुलेटिन के अनुसार मोरीगांव और गोलाघाट जिलों में सोमवार से दो व्यक्तियों की जान चली गयी। बाढ़ प्रभावित जिलों की संख्या सोमवार के 18 से बढ़कर मंगलवार को 19 हो गयी। बाढ़ प्रभावित जिलों में अब भी 2523 गांव और 1.27 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में लगी फसल पानी में डूबी हुई हैं। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ बाढ़ में फंसे लोगों को बचाने में लगे हैं।

कुल 1.04 लाख विस्थापित लोग अब भी 782 राहत शिविरों और राहत वितरण केंद्रों में हैं। हालांकि काजीरंगा नेशनल पार्क में पानी घटने लगा है।

17 people are talking about this



उत्तर प्रदेश में भारी बारिश की चेतावनी जारी
पिछले 36 घंटों में मौसमी गतिविधियों से जोरों पर आए मानसूनी सिस्टम के चलते उत्तर प्रदेश में अगले 24 से 48 घंटों के दौरान झमाझम बारिश के आसार हैं। मौसम विभाग ने प्रदेश के कुछेक इलाकों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र के मौसम विज्ञानियों ने बताया कि प्रदेश के कई इलाकों में बादलों के छाये रहने के साथ वायुमंडल में अधिकत आर्द्रता स्तर 85 से 90 प्रतिशत के आसपास बरकरार है।

ऐसे में कई स्थानों पर गरज चमक के साथ बारिश तेज बौछारें पड़ सकती हैं, जबकि कुछेक स्थानों पर भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। इन सबके बीच प्रदेश में कई स्थानों पर उमस ने बेहाल किया तो बादलों की आवाजाही जारी रही। पूर्वी उप्र समेत अन्य इलाकों में तेज बारिश ने तर बतर किया।

मंगलवार सुबह से शाम तक बांदा में 51 मिमी., बहराइच में 49.4, गोरखपुर में 12.6, उरई में 17, बलिया में 18, चुर्क में 22.2 मिमी. बारिश दर्ज की गई। प्रदेश भर मे जारी चिपचिपी उमस भरी गर्मी के बीच कई स्थानों पर अधिकतम तापमान सामान्य से दो से छह डिग्री सेल्सियस अधिक दर्ज किया गया।


हिमाचल प्रदेश में आज और कल भारी बारिश की चेतावनी
हिमाचल प्रदेश में बुधवार और वीरवार को कई क्षेत्रों में भारी बारिश होने की चेतावनी जारी हुई है। 29 जुलाई तक पूरे प्रदेश में मौसम खराब रहने का पूर्वानुमान जताया गया है। मंगलवार को राजधानी शिमला सहित प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में मौसम साफ रहा। धूप खिलने से अधिकतम तापमान में सामान्य से तीन डिग्री की बढ़ोतरी दर्ज हुई।

उधर, मानसून सीजन में अभी तक प्रदेश भर में सामान्य से 39 फीसदी कम बादल बरसे हैं। एक जुलाई से 23 जुलाई तक सूबे में 118 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड हुई है जबकि इस अवधि के दौरान 194 मिलीमीटर बारिश को सामान्य माना गया है। मानसून के सुस्त रहने के चलते बिलासपुर जिला में सामान्य से पांच फीसदी, चंबा में 69, हमीरपुर में 10, कांगड़ा में 39, किन्नौर में 69, कुल्लू में 34, लाहौल एवं स्पीति में 94, मंडी में 48, शिमला में 18, सिरमौर में 33, सोलन में 20 और ऊना में 25 फीसदी कम बारिश रिकॉर्ड हुई।

मंगलवार को ऊना में अधिकतम तापमान 37.6, भुंतर में 35.0, कांगड़ा में 34.3, सुंदरनगर में 33.8, चंबा में 33.0, नाहन में 31.0, सोलन में 30.6, धर्मशाला में 27.8, कल्पा में 26.3, शिमला में 25.8, केलांग में 22.5 और डलहौजी में 20.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ।

यूपी-हिमाचल सहित कई राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी, बिहार-असम में बाढ़ से हाहाकार
 
Last edited:

adsatinder

explorer
Delhi May Receive Heavy Rainfall This Week: Private Weather Forecaster
It would be one of the heaviest spells of the monsoon season so far in Delhi, Mahesh Palwat of private weather forecaster Skymet Weather said.
Delhi | Press Trust of India | Updated: July 23, 2019 20:05 IST



Delhi May Receive Heavy Rainfall This Week: Private Weather Forecaster

Delhi has recorded four per cent more than the 30-year average of 149.8 mm rainfall this month. (PTI)
NEW DELHI:
Delhi is likely to witness heavy to very heavy rainfall on Thursday and Friday which will lead to a significant decrease in temperatures and humidity levels.
It would be one of the heaviest spells of the monsoon season so far in Delhi, Mahesh Palwat of private weather forecaster Skymet Weather said.
Delhi has recorded 156.5 mm rains from July 1 to July 23, which is four per cent more than the 30-year average of 149.8 mm, officials said.
Overall, it has received 167.7 mm precipitation against the long-term average of 215.3 mm since June 1, when the monsoon season starts, a deficiency of 22 per cent, according to India Meteorological Department (IMD) data.
Delhi recorded 50.2 mm rainfall, the heaviest in the monsoon season this year, on July 22.
"Monsoon is reviving in north India. On and off rains will continue in the Delhi-NCR region till Wednesday. The axis of monsoon trough, which at present runs south of Delhi, will shift northwards leading to fairly widespread rain and thundershower Wednesday onward," Mr Palawat said.
Heavy to very heavy rain is very likely on July 25 and 26, which will reduce the rain deficit in Delhi, he said.

"The rain on Sunday and Monday was patchy. Now, we may witness rain not only in Delhi-NCR but also Haryana, Punjab, West Uttar Pradesh and up to North Madhya Pradesh," Mr Palawat said.
The IMD in a statement said widespread rain or thundershowers will occur over Himachal Pradesh, Uttarakhand, Punjab, Haryana, Chandigarh, Delhi and Uttar Pradesh from July 24 to 27.
It has predicted one or two heavy rain spells on July 25 and 26.
On Tuesday, Delhi recorded a high of 37.6 degrees Celsius and a low of 28.2 degrees Celsius. Humidity levels oscillated between 57 and 92 per cent.

The weatherman has predicted cloudy sky and moderate rain on Wednesday. The maximum and minimum temperatures are likely to hover around 37 and 28 degrees Celsius.

Delhi May Receive Heavy Rainfall This Week: Private Weather Forecaster
 

adsatinder

explorer
Heavy Rain Predicted In Delhi This Week, Orange Alert Issued
2,327 views




32
2



NDTV

Published on Jul 23, 2019


SUBSCRIBE 5M
An orange alert has been issued for Delhi after the weather office predicted heavy rain in the national capital later this week. Delhi is likely to receive heavy rainfall on Thursday and Friday, the weather office said. An orange alert, which means the authorities should prepare for necessary action, has also been sounded for Haryana.
 

adsatinder

explorer
HomePhoto GalleryDelhiDelhi NCR › Delhi Ncr Weather Update Rain Likely To Happen Today Clouds And Wind Give Relief From Scorching Heat
दिल्ली-एनसीआर में सुबह से छाए बादल, मौसम हुआ खुशनुमा, दोपहर बाद हो सकती है बारिश
न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली, Updated Wed, 24 Jul 2019 10:08 AM IST
दिल्ली एनसीआर में छाए बादल

1 of 5
दिल्ली एनसीआर में छाए बादल - फोटो : अमर उजाला


दिल्ली-एनसीआर में बुधवार सुबह से चल रही हवाओं और बादलों की लुका-छिपी की वजह से मौसम सुहाना हो गया है। मंगलवार की तेज धूप और गर्मी के बाद आज सुबह से बादल छाए हुए हैं।



दिल्ली एनसीआर में छाए बादल

2 of 5
दिल्ली एनसीआर में छाए बादल- फोटो : पीटीआई
मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार आज पूरे दिन आसमान में बादल छाए रहेंगे। दोपहर बाद बारिश की संभावना है। बादल और हवाओं की वजह से दिनभर लोगों को उमस व गर्मी से राहत रहेगी।



3 of 5

मौसम विभाग के अनुसार बुधवार यानी आज के बाद से तीन दिन भारी बारिश की संभावना है। अधिकतम तापमान लुढ़ककर 28 से 30 डिग्री के बीच बना रहेगा। 28 जुलाई के बाद तापमान 32 डिग्री के पार जाने की संभावना है। यानी, पूरे सप्ताह मौसम सुहाना रहने की उम्मीद है।




सुहाने मौसम में घूमते लोग

4 of 5
सुहाने मौसम में घूमते लोग- फोटो : पीटीआई

उत्तर प्रदेश में भारी बारिश की चेतावनी जारी
पिछले 36 घंटों में मौसमी गतिविधियों से जोरों पर आये मानसूनी सिस्टम केचलते प्रदेश में अगले 24 से 48 घंटों केदौरान झझमाझम बारिश के आसार हैं। मौसम विभाग ने प्रदेश के कुछेक इलाकों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र के मौसम विज्ञानियों ने बताया कि प्रदेश के कई इलाकों में बादलों केछाये रहने केसाथ वायुमंडल में अधिकत आर्द्रता स्तर 85 से 90 प्रतिशत के आसपास बरकरार है। ऐसे में कई स्थानों पर गरज चमक केसाथ बारिश तेज बौछारें पड़सकती हैं, जबकि कुछेक स्थानों पर भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।




5 of 5


इन सबके बीच प्रदेश में कई स्थानों पर उमस ने बेहाल किया तो बादलों की आवाजाही जारी रही। पूर्वी उप्र समेत अन्य इलाकों में तेज बारिश ने तर बतर किया। मंगलवार को सुबह से शाम तक बांदा में 51 मिमी., बहराइच में 49.4, गोरखपुर में 12.6, उरई में 17, बलिया में 18, चुर्क में 22.2 मिमी. बारिश दर्ज की गई। प्रदेश भर मे जारी चिपचिपी उमस भरी गर्मी के बीच कई स्थानों पर अधिकतम तापमान सामान्य से दो से छह डिग्री सेल्सियस अधिक दर्ज किया गया।


दिल्ली-एनसीआर में सुबह से छाए बादल, मौसम हुआ खुशनुमा, दोपहर बाद हो सकती है बारिश
 

adsatinder

explorer
मौसम विभाग की ताजा भविष्यवाणी, 25-26 जुलाई को दिल्ली में हो सकती है भारी बारिश

Publish Date:Tue, 23 Jul 2019 09:23 AM (IST)



मौसम विभाग की ताजा भविष्यवाणी, 25-26 जुलाई को दिल्ली में हो सकती है भारी बारिश


भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की ताजा भविष्यवाणी के मुताबिकमंगलवार और बुधवार को भी दिल्ली के विभिन्न हिस्सों पर बादलों की मेहरबानी होगी और हल्की व मध्यम बारिश होगी।

नई दिल्ली, जेएनएन। Weather Update today: मानसून के आने के बाद दिल्ली-NCR में झमाझम बारिश का इंतजार खत्म होने ही वाला है। मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक, इस पूरे सप्ताह अच्छी बारिश की संभावना है। मंगलवार और बुधवार को भी दिल्ली के विभिन्न हिस्सों पर बादलों की मेहरबानी होगी और हल्की व मध्यम बारिश होगी।
भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (India Meteorological Department) की ताजा भविष्यवाणी के मुताबिक, 25 और 26 को दिल्ली में भारी बारिश हो सकती है। वहीं, इससे पहले मंगलवार को भी ऐसी ही बारिश के आसार हैं।

इससे पूर्व सोमवार को भी दिल्ली में झमाझम बारिश का दौर जारी रहा। इससे न केवल तापमान नियंत्रण में है, बल्कि दिल्लीवासियों को गर्मी और उमस से भी राहत मिली है। मौसम विभाग के मुताबिक पिछले 24 घंटों के दौरान जहां दिल्ली में 50.2 मिमी. बारिश दर्ज की गई है।
वहीं सोमवार को शाम साढ़े पांच बजे तक 3.6 मिमी. बारिश रिकॉर्ड हुई। रिज में 25 मिमी., लोधी रोड पर 4.5 मिमी. और आयानगर में 1.1 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई। वहीं अधिकतम तापमान सामान्य से दो डिग्री अधिक 36.4 डिग्री सेल्सियस जबकि न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री कम 24.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हवा में नमी का स्तर 56 से 100 फीसद रहा।

वहीं, दिल्ली में बरसात के साथ ही मच्छर जनित बीमारी डेंगू-चिकनगुनिया और मलेरिया का खतरा बढ़ गया है। बीते सप्ताह तक अस्पतालों में आए मरीजों से संबंधित निगम ने आंकड़े जारी किए हैं। रिपोर्ट के अनुसार, बीते सप्ताह डेंगू व चिकनगुनिया के पांच-पांच और मलेरिया के नौ मरीज सामने आए हैं। इस वर्ष अब तक मलेरिया के 75, डेंगू के 32 व चिकनगुनिया के 19 मरीज सामने आ चुके हैं।
बीते सप्ताह डेंगू का एक मामला दिल्ली कैंट इलाके में सामने आया है, जबकि चार अन्य मरीजों के पते की पुष्टि नहीं हो पाई है। इसके अलावा डेंगू के आठ मरीज दूसरे राज्यों के भी हैं। वहीं, मलेरिया का भी एक मरीज दिल्ली कैंट इलाके से है तो आठ अन्य मरीजों के पते की पुष्टि नहीं हो पाई है। इसके अलावा 22 मरीज दूसरे राज्यों के हैं। साथ ही चिकनगुनिया के दो मरीज उत्तरी दिल्ली निगम इलाके से और तीन अन्य मरीजों के पते की पुष्टि नहीं हो पाई है और तीन अन्य मरीज दूसरे राज्यों से हैं।

दूसरे राज्यों से ज्यादा आ रहे हैं मरीज
इस वर्ष पड़ोसी राज्यों उत्तर प्रदेश, हरियाणा से ज्यादा मरीज दिल्ली में सामने आ रहे हैं। पड़ोसी राज्यों से आने वाले मरीजों ने पिछले तीन साल का रिकार्ड तोड़ दिया है। वर्ष 2016 में इस समय तक 32 ही मरीज सामने आए थे, जबकि इस वर्ष अब तक 85 मरीज डेंगू के सामने आ चुके हैं। वर्ष 2017 में 20 जुलाई तक 82 ही मरीज सामने आए थे और वर्ष 2018 में 44 मरीजों को डेंगू हुआ था। वहीं, मलेरिया की बात करें तो वर्ष 2016 में मलेरिया के 42, वर्ष 2017 में 117, 2018 में 75 और 2019 में अब तक 111 मरीज सामने आ चुके हैं। वर्ष 2017 में चिकनगुनिया के 68 मरीज दिल्ली के पड़ोसी राज्यों के हैं। वर्ष 2018 में 15 और 2019 में 28 मरीज सामने आ चुके हैं।

42 हजार से ज्यादा को नोटिस
निगम के अनुसार, मच्छरों से बचाव के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है। साथ ही लापरवाही पाए जाने पर कार्रवाई भी की जा रही है। अब तक 42807 लोगों को दिल्ली की तीनों नगर निगम द्वारा मच्छर का लार्वा पाए जाने पर नोटिस जारी किया गया है। साथ ही 3150 लोगों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी गई है।



मौसम विभाग की ताजा भविष्यवाणी, 25-26 जुलाई को दिल्ली में हो सकती है भारी बारिश
 
Top