Who's awake right now?

adsatinder

explorer
*Google announced a bunch of new features for Assistant at CES 2019*

At the Consumer Electronics Show (CES) 2019, Google announced tons of new features for the Assistant like flight check-ins, hotel booking, a new language interpreter mode, and the extension of Assistant on the lock screen to all Android phones.
 

adsatinder

explorer
ट्रैफिक रूल्स तोड़े तो रडार वाले कैमरे खुद ही काट देंगे चालान
यहां लगेंगे ये लेटेस्ट कैमरे



आश्रम चौक, राजघाट क्रॉसिंग, तिलक मार्ग डब्लू पॉइंट, अरविंदो चौक, प्रीत विहार क्रॉसिंग, लक्ष्मी नगर क्रॉसिंग, कड़कड़ी मोड़, मोती बाग, दिल्ली गेट, आईआईटी क्रॉसिंग, पीरागढ़ी चौक, मायापुरी चौक जैसी महत्वपूर्ण जगहें शामिल हैं।

दिल्ली में पिछले साल क्राइम का ग्राफ बढ़ा, हालांकि स्नैचिंग जैसे अपराधों में कमी आई।
घर-घर जाएगी दिल्ली पुलिस, लोगों से पूछेगी उनकी राय

दिल्ली पुलिस के बारे में लोग क्या सोचते हैं, यह पता लगाने को खुद पुलिस एक अनूठा सर्वे कराने जा रही है। कमिश्नर अमूल्य पटनायक ने बताया कि लोगों की राय लेकर यह पता लगाया जाएगा कि पुलिस से लोगों की क्या उम्मीदें हैं। पुलिसिंग के मामले में कहां पर किस तरह की कमियां हैं, जिन्हें दूर करने की जरूरत है।

• एनबीटी टीम, नई दिल्ली: दिल्ली की सड़कों पर ट्रैफिक रूल तोड़ने वाले अब पुलिस की नजरों से नहीं बच पाएंगे। इसके लिए दिल्ली के 24 चौराहों पर 96 थ्री डी रडार बेस्ड रेड लाइट वॉयलेशन डिटेक्शन कैमरे (आरएलवीडी) लगवाए जा रहे हैं। ये कैमरे ट्रैफिक रूल तोड़ने वालों की रिकॉर्डिंग करके उनकी गाड़ियों के नंबरों के आधार पर मालिक के खिलाफ चालान जेनरेट करते रहेंगे। मालिक के फोन नंबर पर नोटिस की सूचना भेज दी जाएगी। दिल्ली पुलिस की सालाना प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह जानकारी दी गई। ट्रैफिक पुलिस के स्पेशल कमिश्नर ताज हसन ने बताया कि मार्च तक करीब 40 पर्सेंट कैमरे लग जाएंगे। इसी साल जुलाई तक सभी 24 चौराहों पर कैमरे लगाने का काम पूरा कर लिया जाएगा।

पुलिस ने बताया कि ट्रैफिक रूल तोड़ने पर या चालान घर आने पर जुर्माना भरने के लिए आपको ज्यादा भटकना नहीं पड़ेगा। पुलिस नई ई-चालान मशीनें मंगवा रही है, जिससे लोग ऑनलाइन बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग, मोबाइल वॉलेट या डेबिट व क्रेडिट कार्ड के जरिए कहीं से भी जुर्माना भर सकेंगे। मई तक ये ई-चालान मशीनें ट्रैफिक पुलिस को मिल जाएंगी।





CHallan by sms Delhi 73942.jpg



Details


अब ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों पर दूर से ही नजर रखेगी पुलिस-Navbharat Times
 
Last edited:

adsatinder

explorer
दिल्ली में ट्रैफिक नियम तोड़े तो एसएमएस से आ जाएगा चालान, अगस्त से नई तकनीक
दिल्ली शहर में इंटेलिजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम लागू किया जाएगा, कैमरे रखेंगे वाहनों पर नजर
Reported by: मुकेश सिंह सेंगर, Edited by: सूर्यकांत पाठक, Updated: 9 जनवरी, 2019 10:51 PM


नई दिल्ली:

अगस्त 2019 से दिल्ली में वाहन चालकों को सावधान हो जाना होगा. इस माह से वाहन मालिक के मोबाइल पर चालान आएंगे. कैमरे वाहनों पर नजर रखेंगे.

अगर दिल्ली में वाहन चलाने के दौरान ट्रैफिक के नियम तोड़े तो आने वाले वक्त में बच नहीं पाएंगे. अगस्त 2019 तक दिल्ली में इंटेलिजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम लागू हो जाएगा. यानी शहर के ट्रैफिक सिस्टम को ऐसी तकनीक से लैस कर दिया जाएगा कि कोई भी ट्रैफिक का नियम तोड़ेगा तो उसका बचना मुश्किल होगा.

दिल्ली पुलिस की सालाना प्रेस वार्ता में ट्रैफिक पुलिस के स्पेशल कमिश्नर ताज हसन ने बताया कि अगर कोई रेड लाइट जम्प करता है तो उसका चालान जुलाई 2019 से 3 डी राडार पर आधारित रेड लाइट वॉयलेशन डिटेक्शन कैमरा करेगा, जो ऑटोमेटिक चालान करेगा और चालान सीधा रेड लाइट जम्प करने वाले के मोबाइल पर भेजेगा. ऐसे 96 कैमरे 24 मुख्य जंक्शनों पर लगाए जाएंगे. ये कैमरे अपने आप तस्वीर लेंगे और चालान करेंगे.इंटेलिजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम रात के अंधेरे में भी काम करेगा.

रॉन्ग साइड से आ रही थी कार, रोकने की कोशिश तो ट्रैफिक पुलिस को बोनट पर घसीटता ले गया, देखें VIDEO

शहर में वाहनों में ओवरस्पीड एक बड़ी समस्या है. इससे निपटने के लिए गेन्ट्री माउंटेड राडार बेस्ड ओवर स्पीड डिटेक्शन सिस्टम 100 जगहों पर लगाया जाएगा. इसमें लगे कैमरे एक साथ कई वाहनों की स्पीड डिटेक्ट कर सकते हैं. सिस्टम ओवरस्पीड चलने वालों का चालान अपने आप काटकर सीधा उनके मोबाइल पर एसएमएस के जरिए भेज देगा.

यह प्रोजेक्ट 27 करोड़ का है जो जुलाई 2019 में शुरू हो जाएगा. इसी तरह ओवर स्पीड से चलने वालों के लिए 55 स्पीड गंस भी आ रही हैं जो पोर्टेबल माउंटेड राडार से जुड़ी होंगी और अपने आप चालान काटेंगी. चालान एसएमएस के जरिए पहुंच जाएगा. यह प्रोजेक्ट मार्च 2019 से शुरू हो जाएगा.

ट्रैफिक पुलिस के अधिकारियों के मुताबिक आईटीएमएस यानी इंटेलिजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम अगस्त 2019 से लागू हो जाएगा. इसका एप्रूवल गृहमंत्रालय से आ गया है. इसके लिए कंसल्टेंट भी हायर किए जा रहे हैं. यानी अगस्त 2019 से ट्रैफिक पुलिस भी मॉडर्न हो जाएगी और ट्रैफिक सिस्टम पूरी तरह से तकनीक पर आधारित होगा.

दिल्ली में ट्रैफिक नियम तोड़े तो एसएमएस से आ जाएगा चालान, अगस्त से नई तकनीक
 

adsatinder

explorer
3D camera planned to curb rash driving
Thursday, 10 January 2019 | SHEKHAR SINGH | NEW DELHI



Beware, if you are breaking traffic rules in the national Capital as the Delhi Police has planned to install 3D Radar Based Red Light Violation Detection Camera (RLVD) system to ensure smooth and safe flow of traffic in city. The project is planned to kickstart from July this year.

This not the only project Delhi Traffic Police is planning to install this year. According to Taj Hassan, Special Commissioner of Police, Traffic, several monitoring systems such as Gantry-mounted radar-based over speed detection system will be introduced this year to combat vehicle driving in speed.

"Police will also purchase speed guns and will also implement Intelligence Traffic Management System (ITMS) this year for the smooth functioning of traffic in the city. The department has also planned to issue challan automatically through SMS (message) for effective prosecution," said the Special CP.

"ITMS has been approved by Ministry of Home Affairs (MHA). The process of hiring consultant is initiated and detailed project report (DPR) for ITMS will be prepared by August 2019," said the Special CP. "In May this year traffic police will also be implementing new E-challan system with collaboration with NIC. The project will have real-time integration of traffic police challans with Sarthi and Vahan database. Database of repeat offenders will be made through this system which will help traffic police personnel to check the previous history of traffic violations," said the Special CP.

This year Delhi saw a marginal drop by 1.8 per cent in road accidents as compared to 2017. According to the data, 6,274 accidents were reported in the national capital in 2018 as against 6,386 in 2017. As many as 1,604 persons were killed and 5,831 were injured in road accidents in 2018. In 2017, 1,510 persons were killed and 6,332 were injured.

Of the 6,274 accidents reported last year, 1,562 were fatal accidents while rest fell in the simple category.

Systematic analysis of the accidents to determine the causes, time and place and types of offending vehicles and suitable deployment of night checking-cum-patrolling by traffic police has resulted in check on road accidents, police said. Strict action was taken against drunk driving, speeding, red light jumping, goods vehicles plying during restricted hours on specified roads, officials said, adding engineering faults were identified and corrective remedial measures were initiated.


3D camera planned to curb rash driving
 
Top