Who's awake right now?

adsatinder

Plz Help Himabuj (Amit Tyagi) in Corona Fighting
Rasode Mein kaun tha? बनाने वाले Yashraj Mukhate की कहानी, कहां से आया ये आइडिया? (BBC Hindi)
375,223 views
•Aug 28, 2020





BBC News Hindi

9.58M subscribers

कई लोग बहुत दिनों तक मेहनत करते हैं और कुछ ख़ास हाथ नहीं लगता. लेकिन कभी-कभी ऐसा इत्तेफ़ाक होता है कि अचानक कुछ ऐसा बन जाता है, जो सपनों को नई हवा दे देता है. यशराज मुखाते के साथ कुछ ऐसा ही हुआ. वो बीते कई दिनों से म्यूज़िक और बीट पर काम कर रहे थे लेकिन कुछ भी ख़ास कमाल नहीं हो रहा था. लेकिन रसोड़े में कौन था... इस एक डायलॉग ने उनकी ज़िंदगी बदल दी है. एक पुराने टीवी धारावाहिक का ये डायलॉग लेकर उन्होंने म्यूजिक और बीट पर काम किया और सोशल मीडिया पर ये वायरल हो गया. इस मीम ने उनकी ज़िंदगी पूरी तरह बदल दी है. यशराज से बातचीत की बीबीसी संवाददाता की समृद्धा भांबुरे ने.
 

adsatinder

Plz Help Himabuj (Amit Tyagi) in Corona Fighting
Rajaji National Park between Haridwar & Dehradun: Uttarakhand| Jungle Safari 36 kms
165,993 views
•Apr 21, 2017


1.1K
94



visa2explore



1.02M subscribers

Rajaji National park at Uttarakhand - North India has 3 entry points, I have done Jungle safari from the Chilla range. It is considered to be among the best for wild animal visibility.
 

adsatinder

Plz Help Himabuj (Amit Tyagi) in Corona Fighting
राजाजी नेशनल पार्क पर्यटकों के लिए खुला, सफारी से जानवरों का दीदार
5,726 views
•Nov 15, 2018


62
6


News18 UP Uttarakhand

1.96M subscribers
राजाजी नेशनल पार्क पर्यटकों के लिए खुला, सुबह 6-10 और दोपहर 2 से शाम 6 बजे तक खुलेगा |
 

adsatinder

Plz Help Himabuj (Amit Tyagi) in Corona Fighting
राजाजी नेशनल पार्क और पर्यटकों के लिए सुविधाएं (hello Uttarakhand)
1,088 views
•Jan 2, 2019


22
2


DD UTTARAKHAND
158K subscribers


Hello Uttrakhand - #Rajaji_National_Park Paryatakon Ko Subidhaye, Doordarshan Dehradun
 

adsatinder

Plz Help Himabuj (Amit Tyagi) in Corona Fighting
पर्यटकों के लिए खुला राजाजी टाइगर रिजर्व पार्क, पूजा अर्चना के बाद खोला गया पार्क का गेट
17 views
•Nov 14, 2020


3
0


Punjab Kesari Uttarakhand
21K subscribers

#parkopning #RajajiNationalPark
विश्व प्रसिद्ध राजाजी टाइगर रिजर्व को आज से सैलानियों के लिए खोल दिया गया है...पार्क की चीला रेंज में अधिकारियों ने आज विधिवत पूजा अर्चना के बाद पार्क की चीला, रानीपुर और मोतीचूर रेंजो को पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है... अब सैलानी यहां वन्य जीवों का दीदार कर सकेंगे... इस दौरान कोविड-19 के नियमों को ध्यान में रखते हुए राजा जी टाइगर के मुख्य द्वार पर ही सैलानियों के थर्मल स्कैनिंग की जाएगी और सभी वाहनों में सैनिटाइजर की व्यवस्था की जाएगी इसके बाद ही सैलानियों को वन्यजीवों के दीदार के लिए पार्क क्षेत्र में प्रवेश करने दिया जाएगा मोतीचूर गेट पर पहले दिन पहुंचे हरियाणा के वर्ल्ड कुश्ती कोच का रेंज अधिकारी मोतीचूर महेंद्र सिंह गिरी द्वारा माल्यार्पण कर स्वागत किया गया
 

adsatinder

Plz Help Himabuj (Amit Tyagi) in Corona Fighting
Rajaji Park opens after 15 November every year.

हरिद्वार: 8 महीने बाद खुला राजाजी टाइगर रिजर्व, जंगल सफारी के लिए सैलानी बेकरार

Vaibhava Pandey | LipiUpdated: 15 Nov 2020, 05:38:00 PM

पार्क के गेट हर साल मानसून सीजन में पर्यटकों के लिए बंद किए जाते हैं। इस साल लॉकडाउन के कारण मार्च में ही पार्क को बंद किया गया था। पार्क में जंगल सफारी के लिए प्रतिदिन 300 वाहनों को एंट्री दी जाएगी। बुकिंग ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्यमों से की जा सकती है।


राजाजी टाइगर रिजर्व

राजाजी टाइगर रिजर्व

पुलकित शुक्ला, हरिद्वार
जंगल सफारी के लिए प्रसिद्ध हरिद्वार का राजाजी टाइगर रिजर्व रविवार से पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है। टाइगर रिजर्व हर साल मानसून सीजन में 5 माह के लिए बंद किया जाता है, लेकिन इस साल कोरोना महामारी के चलते पार्क को पहले ही बंद कर दिया गया था। पार्क प्रशासन के अधिकारियों ने विधिविधान से पूजा-अर्चना कर पार्क के गेट सैलानियों के लिए खोले। इस दौरान पार्क में पहले प्रवेश करने वाले सैलानियों का स्वागत किया गया।


पार्क के अधिकारियों के मुताबिक, प्रतिदिन 300 वाहनों को पार्क में सफारी करने की अनुमति दी गई है। देशी सैलानियों के लिए 150 और विदेशी सैलानियों के लिए 550 रुपये का टिकट रखा गया है। वार्डन कोमल सिंह ने बताया कि पार्क को निर्धारित समय पर खोलने को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई थी पर शासन की अनुमति के बाद पार्क को सैलानियों के लिए खोल दिया गया है।

सैलानी भी दिखे उत्साहित
पार्क खुलने पर सैलानियों में भी खासा उत्साह देखा जा रहा है। चंडीगढ़ से परिवार संग वन्यजीवों और प्राकृतिक सौंदर्य का दीदार करने आए सैलानी राजेंद्र सिंह का कहना है कि राजाजी टाइगर रिजर्व में सफारी के लिए वे काफी उत्साहित हैं। राजाजी पार्क के बारे में उन्‍होंने काफी सुना था। आपको बता दें कि नैशनल पार्क राजाजी टाइगर रिजर्व वन्यजीवों और जंगल सफारी के लिए प्रसिद्ध है। पार्क में हाथी, गुलदार, हिरन समेत अन्य कई जानवरों को देखने के लिए बड़ी संख्या में सैलानी पहुंचते हैं।



हरिद्वार: 8 महीने बाद खुला राजाजी टाइगर रिजर्व, जंगल सफारी के लिए सैलानी बेकरार
 

adsatinder

Plz Help Himabuj (Amit Tyagi) in Corona Fighting
Meet this 72 year old man bacchudada who give free food to...
40 वर्षों से ढाबा चला रहे हैं ये बुजुर्ग दादा, फ्री में भी लोगों को खिला देते हैं खाना

By
Priyodutt Sharma

Published: Nov 16, 2020 09:55 am IST



1605555179253.png


[Image: Bachudada Dhaba From Gujrat]
bachuda dhaba
कहते हैं ना कि इंसान के नेककाम ही दुनिया याद रखती है और उसी से उसका नाम होता है। क्योंकि दुनिया को ये फर्क नहीं पड़ता कि किसके पास कितना धन है। दुनिया को इस बात से फर्क पड़ता है कि कौन लोगों की मदद कर रहा है। कौन दुनिया को बेहतर बनाने की ओर बढ़ रहा है। गुजरात के मोरबी शहर के रहने वाले बचुदादा एक ढाबे चलाते हैं। इस ढाबे का नाम ही ‘बचुदादा का ढाबा’ है। बीते 40 वर्षों से वो लोगों को खाना खिला रहे हैं। उनके ढाबे की एक खास बात ये है कि वहां जो भी आए वो भूखा नहीं जाता। यानी अगर किसी के पास पैसे नहीं है तो खाना फ्री में ही खिलाते हैं वो।
झोपड़ी में रहते हैं और ढाबा चलाते हैं
72 वर्षीय बचुदादा बीते 40 वर्षों से ही मोरबी शहर में रह रहे हैं। वो झोपड़ी में रहते हैं और ढाबा चलाते हैं। उनके यहां खाने की पूरी थाली का रेट तो 40 रुपये है। पर जैसे किसी के पास 10-20 रुपये भी होते हैं, तो बचुदादा उसे भी भरपेट खाना देते हैं। जैसे किसी के पास पैसे नहीं होते तो वो उसे भी खाना खिलाते हैं। उनके ढाबे से कोई शख्स भूखा वापस नहीं जा सकता।
पत्नी का हो गया निधनbachuda dhaba
बता दें कि 10 महीने पहले बचुदादा की पत्नी का निधन हो गया। तब से वो अकेले ही ढाबा चला रहे हैं। पहले उनकी पत्नी भी उनका साथ देती थीं। उनकी थाली में तीन स्वादिष्ट सब्जियां, रोटी-दाल-चावल, पापड़ और छाछ भी होता है। जानकारी के लिए बता दें कि ढाबे के आसपास गरीब लोग रहते हैं। उनके पास पैसे कम होते हैं। तो वो कम पैसे में बचुदादा के यहां चले जाते हैं और भरपेट खाना खाते हैं। बचुदादा का मानना है कि उनके यहां से कोई भूखा नहीं जाना चाहिए। सलाम है बचुदादा को।


navbharattimes.indiatimes.com?p=47651&utm_source=contentofinterest&utm_medium=text&utm_campaign=cppst
 
Last edited:

adsatinder

Plz Help Himabuj (Amit Tyagi) in Corona Fighting
7 Day's of Quarantine in My Life
43,424 views
•Oct 6, 2020


3.5K
84



Riding with Peace

87.2K subscribers

#RidingwithPeace #Campinginindia
Hi My Name Is Sam, I live in South Delhi, I Love Bike Riding, Long Distance Riding, Camping, Cooking, and I do Traveling in a Simple way. No Show Off. Only Real Thing, I love to Makes Vlog on my Traveling Life also sharing my Experience through the Vlog Thank You
 

adsatinder

Plz Help Himabuj (Amit Tyagi) in Corona Fighting
MUMBAI TO KEDARNATH COUPLE RIDE | STOPPED 3 TIMES BY UTTARAKHAND POLICE | Part 4 - Sonprayag
49,914 views
•Sep 29, 2020


3.4K
37


WanderSane

104K subscribers
 
Top